7th Pay Commission: उत्तर प्रदेश के 27 लाख से ज्यादा सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को योगी सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। यूपी सरकार ने प्रदेश के 15 लाख कर्मचारियों और 12 लाख से अधिक पेंशनरों का रुका हुआ महंगाई भत्ता जारी कर दिया है। पिछले डेढ़ साल से कोरोना वायरस के चलते इन कर्मचारियों की वेतन वृद्धि रुकी हुई है और इन्हें महंगाई भत्ता भी नहीं मिल रहा है। हाल ही में केन्द्र सरकार ने भी सभी सरकारी कर्मचारियों का रुका हुआ महंगाई भत्ता देने का एलान किया है। इसके बाद यूपी सरकार भी अपने कर्मचारियों को महंगाई भत्ता देने का ऐलान किया है।

यूपी सरकार ने कोरोना वायरस की वजह से पिछले साल सरकारी कर्मचारियों की वेतन वृद्धि टाल दी थी। तब से ही ये कर्मचारी सैलरी बढ़ने का इंतजार कर रहे हैं।

अगले 7 महीने में 3 बार मिलेगा महंगाई भत्ता

यूपी में जनवरी 2020 से कर्मचारियों का महंगाई भत्ता रुका हुआ है। जनवरी के बाद जुलाई 2020 और जनवरी 2021 का महंगाई भत्ता भी कर्मचारियों को नहीं मिला है। सरकार ने कहा कि इन कर्मचारियों को अगले 7 महीने में तीन बार महंगाई भत्ता मिलेगा। इसके साथ ही उनके वेतन में सालाना वृद्धि भी शुरू होगी। जुलाई में 11 फीसदी की दर से कर्मचारियों को महंगाई भत्ता का लाभ मिल सकता है। इसके साथ ही जुलाई में ही उनका वेतन भी 3 फीसदी बढ़ सकता है।

पिछले साल नहीं हुई थी बढ़ोत्तरी

योगी सरकार ने पिछले साल कोरोना की वजह से कर्मचारियों की वेतन वृद्धि समेत अन्य भत्तों पर रोक लगा दी थी। सरकार ने इसके जरिए करीब 8 हजार करोड़ रुपये बचाने का दावा किया था। इससे पहले सरकारी कर्मचारियों को 17 फीसदी भत्ता मिल रहा था। पिछले साल कोरोना वायरस के कारण इसमें कोई बदलाव नहीं किया गया था।

चुनावी साल में सरकार दिल खोलकर लुटा रही खजाना

कर्मचारियों का महंगाई भत्ता रिलीज करने से सरकारी खजाने पर करीब 3000 करोड़ का भार पड़ेगा लेकिन चुनावी साल होने की वजह से सरकार कर्मचारियों को खुश करने में पीछे नहीं रहना चाहती है। रिटायर्ड कर्मचारियों के लिए भी महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का ऐलान किया गया है। इससे यूपी के 12 लाख पेंशनर्स को फायगा होगा। यूपी में अगले साल विधान सभा चुनाव होने हैं। कोरोनाकाल में सरकार के खराब मैनेजमेंट को लेकर विपक्षी दल आलोचना कर रहे हैं। इसे देखते हुए पिछले दिनों सीएम योगी की पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और पीएम मोदी से दिल्ली में मुलाकात हुई थी। इसके बाद सीएम योगी एक-एक वर्ग के मुद्दों को चिन्हित कर उनका निराकरण करने में जुट गए हैं।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags