Udaipur: राजस्थान के उदयपुर में कट्टरपंथियों ने नुपूर शर्मा के समर्थन में ट्वीट करने पर एक शख्स की दिनदहाड़े हत्या कर दी। मिली जानकारी के मुताबिक उदयपुर में कन्हैया लाल ने नुपूर शर्मा के समर्थन में ट्वीट किया था। इससे गुस्साए दो लोगों ने धानमंडी थाना क्षेत्र के मालदास स्ट्रीट में उसके दुकान पर पहुंचकर धारदार हथियार से बेरहमी से हत्या कर दी। वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई। इस घटना के बाद हिंदू संगठन में आक्रोश है और पूरे शहर में तनाव का माहौल है। प्रशासन ने 24 घंटों के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी है। साथ ही आसपास के 7 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। उधर पुलिस ने हत्या के दोनों आरोपियों को राजसमंद से गिरफ्तार कर लिया है।

कथित रूप से दोनों आरोपी रफीक मोहम्मद और अब्दुल जब्बार को हिरासत में ले लिया है। दोनों सूरजपोल के रहने वाले हैं। पुलिस के मुताबिक दोनों आरोपी मोटरसाइकिल पर हेलमेट पहनकर भागने की कोशिश कर रहे थे,लेकिन उन्हें भीम क्षेत्र में नाकेबंदी के दौरान पकड़ लिया गया।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की है और आश्वासन दिया है कि दोषियों को कड़ी सजा दिलाई जाएगी। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं। इस घटना में शामिल सभी अपराधियों कठोर कार्रवाई की जाएगी एवं पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी।

जानिये पूरी घटना

मृतक कन्हैया लाल गोर्वधन विलास इलाके का रहने वाला था। 10 दिन पहले उसने नुपूर शर्मा के पक्ष में सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। इसके बाद से समुदाय विशेष के लोग उसे जान से मारने की धमकी दे रहे थे। कन्हैयालाल लगातार धमकियों से परेशान था और 6 दिनों से उसने अपनी टेलर्स की दुकान भी नहीं खोली थी। मंगलवार को हत्यारे उनकी दुकान पर कपड़े सिलवाने के बहाने आए और तलवार-चाकुओं से गला रेत कर उसकी हत्या कर दी। इस मामले में आरोपियों ने वीडियो जारी कर हत्या की जिम्मेदारी भी ली । इस वीडियो में उन्होंने पीएम मोदी को भी अंजाम भुगतने की चेतावनी दी है।

Koo App

उदयपुर के एक सीधे-सादे नागरिक की बर्बरता से हत्या और आरोपियों द्वारा वीडियो बनाकर अपराध स्वीकारना बताता है कि तुष्टिकरण सीमाएं लांघ जाए तो वातावरण खूनी वैमनस्य का शिकार हो जाता है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ शिकायत को अनदेखा किया, जिसका वीभत्स परिणाम सामने है। यह वारदात सभ्य समाज को भयग्रस्त करने की साजिश का हिस्सा है, गहलोतजी सपाटबयानी कर पल्ला नहीं झाड़ सकते। उनकी जिम्मेदारी है प्रत्येक नागरिक को सुरक्षित महसूस कराना और उन कारणों पर रोक लगाना जिनसे इस तर्ज के अपराध और अपराधी पनप रहे हैं।

- Gajendra Singh Shekhawat (@gssjodhpur) 28 June 2022

Koo App

उदयपुर में एक निर्दोष युवक की दिन दहाड़े निर्मम हत्या से स्पष्ट हो गया है कि राज्य सरकार की शह के कारण अपराधियों के हौसले बुलंद है और प्रदेश में साम्प्रदायिक उन्माद व हिंसा की स्थिति उत्पन्न हो गई है। अपराधी इतने बैखोफ हैं कि उन्होंने प्रधानमंत्री जी को लेकर हिंसक बयान दिया है! घटना में लिप्त सभी अपराधियों की तुरंत गिरफ़्तारी हो और कड़ी सजा मिले। इस घटना के पीछे जिन लोगों का हाथ है,उन्हें भी राज्य सरकार बेनक़ाब कर गिरफ़्तार करे। #Udaipur #Rajasthan

- Vasundhara Raje (@vasundhara_raje) 28 June 2022

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close