अहमदाबाद से शादी का झांसा देकर युवती को भगाने, मतांतरण व लिव इन में रहने के लिए दबाव बनाने वाले शादीशुदा आरोपित को राजस्थान के उदयपुर में दबोच लिया गया। सरखेज इलाके में रहने वाली हिंदू युवती को पड़ोस में रहने वाला शादीशुदा मुस्लिम युवक 24 जून को भगा ले गया था। युवती के पिता की शिकायत पर सर्विलांस के जरिये उनका पता लगाकर पुलिस टीम राजस्थान भेजी गई। सोमवार को युवती को बरामद करते हुए आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया। पीड़िता का कहना है कि विवाह नहीं करने तक आरोपित उस पर लिव इन रिलेशन में रहने का दबाव डाल रहा था। नए कानून के अमल में आने के बाद अहमदाबाद में लव जिहाद का यह पहला मामला है। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त आरआर सरवैया बताते हैं कि 26 वर्षीय आरोपित करीब आठ साल से युवती के संपर्क में था। दोनों स्कूल के समय से एक दूसरे को जानते थे। आरोपित शादीशुदा है, जबकि पीड़िता की कुछ समय पहले सगाई हुई है। एक अन्य मामले में पीड़िता का पति, जेठ व ससुर गिरफ्तार वड़ोदरा फतेहगंज थाने में शिकायत दर्ज कराने के बाद लव जिहाद की शिकार युवती के घर देवर साजिद खान, जेठ वसीम पठान व जेठानी शबनम मोहसीन पहुंचे और उसके दो माह के बच्चे को छीनने का प्रयास किया। आरोप है कि साजिद ने पीड़िता को उसके बेटे को नहीं सौंपने पर छोटी बहन को भी उठा ले जाने की धमकी दी। 23 मई को दर्ज कराई गई शिकायत में पीड़िता ने बताया है कि पति मोहिब पठान ने शादी के लिए जबरन उसका नाम बदलवाया और बाद में मतांतरण के लिए भी दबाव डालने लगा। पुलिस ने इस मामले में पति मोहिब, जेठ मोहसिन व ससुर इम्तियाज खान को गिरफ्तार किया है।

Posted By: Navodit Saktawat