केरल में गर्भवती हथिनी के साथ हुई घटना के कारण पूरे देश में गुस्सा है और लोग सोशल मीडिया में नाराजगी जता रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ राज्य सरकार ने मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। जहां एक तरफ देश में इस हथिनी का मामला गर्माया हुआ है वहीं दूसरी तरफ अब एक गर्भवती बिल्ली का मामला सामने आया है। इस मामले में एक शख्स को सजा भी दी गई है। मामला पंजाब के श्रीमुक्तसर साहिब का है। यहां एक शख्स को कबूतर पालना महंगा पड़ गया।

जानकारी के अनुसार, कबूतर पालने के शौकीन इस युवक ने मोहल्ले से बिल्ली को भगा दिया। इसके बाद मोहल्ले वालों ने उस युवक को आगे से कबूतर ना पालने की सजा सुनाई है। मामला शहर के मलोट रोड नाका नंबर सात मोहल्ले का है जहां रहने वाले असां मोहम्मद ने एक बिल्ली पाली हुई थी, जिसकी देखभाल गली वाले मिलकर करते थे। बिल्ली गर्भवती थी। 27 मई को बिल्ली अचानक गायब हो गई। आसपास के इलाके में तलाश की गई, लेकिन बिल्ली का पता नहीं चला।

इसके बाद असां मोहम्मद ने शक के आधार पर मोहल्ले के ही अर्शदीप के खिलाफ थाना सिटी में शिकायत कर दी। पुलिस ने पूछताछ की तो युवक ने बताया कि उसने कबूतर पाल रखे हैं। वह बिल्ली से परेशान था, इसलिए उसने उसे पकड़कर किसी अन्य स्थान पर छोड़ दिया। मोहल्ले के लोगों ने अर्शदीप द्वारा छोड़ी गई जगह पर बिल्ली की तलाश शुरू की, लेकिन तीन-चार दिन बाद भी सफलता नहीं मिली।

इसी बीच, कुछ लोगों ने पंचायत कर युवक तथा मोहल्ले वालों में राजीनामा करवा दिया। युवक को सजा के तौर पर कहा गया कि अब वह कबूतर नहीं पाल सकता है। जांच अधिकारी अंग्रेज सिंह ने कहा कि अब दोनों पक्षों में समझौता हो गया है। युवक अब कबूतर नहीं पालेगा, जिस कारण कार्रवाई नहीं की गई है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना