हैदराबाद। चार दिनों पहले पश्चिम बंगाल ने साफ कर दिया था कि वह नए मोटर वाहन कानून को राज्य में लागू नहीं करेगी। इसके बाद अब तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने विधानसभा में रविवार को घोषणा कर दी है कि उनके राज्य में भी नए मोटर वाहन (संशोधन) कानून 2019 को लागू नहीं किया जाएगा। बताते चलें कि नए कानून में ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माना लगाए जाने का प्रावधान किया गया है।

कई अन्य राज्यों ने भी नए कानून के तहत तय की गई जुर्माने की राशि को काफी कम कर दिया है या नए कानून को लागू करने में वे देरी कर रहे हैं। इस दौरान ये राज्य नए कानून के प्रावधानों का भी अध्ययन कर रहे हैं। तेलंगाना के सीएम ने कहा कि एक सितंबर से लागू किए गए नए मोटर वाहन कानून को लागू कर भारी जुर्माना लगाकर नागरिकों को परेशान करने की हमारी कोई मंशा नहीं है।

विधानसभा को संबोधित करते हुए राव ने कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए नए मोटर विहिकल एक्ट को हम लागू नहीं करेंगे। हम अपना कानून लाएंगे और ट्रैफिक नियमों को लागू करने के मामले में हम किसी जल्दबाजी में नहीं हैं। लोगों पर भारी जुर्माना लगाने की हमारी कोई मंशा नहीं है। परिवहन मंत्री पी अजय कुमार ने कहा कि भारी जुर्माने की वजह से केंद्र सरकार की इमेज को कुछ हद तक खराब किया है और हम इसका जोखिम नहीं ले सकते हैं।

हालांकि, तेलंगाना ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने कहा कि राज्य अपना विधान नहीं ला सकता है, लेकिन नियमों में संशोधन कर सकता है। एक अधिकारी ने कहा कि हम राज्य के संशोधन ला सकते हैं और कुछ नियमों को बदल सकते हैं, लेकिन हम नया एमवी एक्ट नहीं ला सकते हैं। पड़ोसी राज्याों और भाजपा शासित कर्नाटक ने हाल ही में गुजरात की तर्ज पर जुर्माने की राशि को काफी कम करने का फैसला किया है।