आगरा। यूपी बार कौंसिल की नवनिर्वाचित अध्यक्ष दरवेश सिंह (38) को उनके साथी अधिवक्ता मनीष शर्मा (38) ने बुधवार को गोलियों से भून दिया। पांच गोलियां मारने के बाद मनीष ने खुद को भी गोली मार ली।

उसे गंभीर हालत में गुरुग्राम ले जाया गया है। दरवेश सिंह दो दिन पहले उत्तर प्रदेश बार कौंसिल की अध्यक्ष निर्वाचित हुई थीं।

अपने स्वागत समारोह के बाद वह दोपहर करीब ढाई बजे वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद कुमार मिश्रा के चैंबर में पहुंचीं। साथी अधिवक्ता मनीष शर्मा से दो माह से विवाद चल रहा था। दोनों पहले एक ही चैंबर में बैठते थे।

मनीष शर्मा से दरवेश का विवाद बढ़ गया। इसके बाद मनीष ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल निकालकर मनोज पर फायर कर दिया, लेकिन वह बच गया।

मनीष ने अगले पल ही दरवेश को ताबड़तोड़ पांच गोलियां मार दीं। दरवेश वहीं गिर पड़ीं। बाद में मनीष ने खुद को गोली मार ली। साथी अधिवक्ता दोनों को अलग-अलग अस्पताल लेकर पहुंचे।

फायरिग से दीवानी परिसर में सनसनी फैल गई। एडीजी अजय आनंद समेत अन्य अधिकारी घटना की जानकारी होने पर अस्पताल पहुंचे और अधिवक्ताओं से घटना की जानकारी ली।


बार कौंसिल अध्यक्ष दरवेश सिंह की हत्या के पीछे आपसी विवाद बताया गया है। मामले की जांच की जा रही है। सुरक्षा को लेकर न्यायिक अधिकारियों से भी बात की जा रही है।

-अजय आनंद एडीजी, आगरा जोन।

Posted By: Navodit Saktawat