प्रयागराज। प्रशासन से स्पष्ट कर दिया है कि अक्षयवट के दर्शन फिलहाल जारी रहेंगे। पहले 15 जुलाई के बाद अक्षयवट के दर्शन बंद करने की बात कही जा रही थी, लेकिन अब बाढ़ का पानी किले के पास पहुंचने पर ही अक्षयवट बंद होगा और इसी अवधि में सेना अक्षयवट स्थल पर मरम्मत आदि का काम कराएगी।

किले के भीतर सदियों से बंद अक्षयवट को कुंभ से पहले श्रद्धालुओं के लिए खोला गया। कुंभ के दौरान लाखों श्रद्धालुओं ने दर्शन किए।

इसके बाद 15 जुलाई के बाद अक्षयवट दर्शन बंद होने की बात कही गई थी, क्योंकि गंगा-यमुना में बाढ़ आने पर किले से लेकर लेटे हनुमान मंदिर तक पानी आ जाता है। इससे श्रद्धालु वहां नहीं पहुंच सकेंगे। इसी अवधि में वहां मरम्मत आदि के कार्य कराए जाएंगे।

प्रयागराज मेला प्राधिकरण के एडीएम द्वितीय दिलीप त्रिगुनायत का कहना है कि फिलहाल अक्षयवट श्रद्धालुओं के लिए खुला रहेगा। यह निर्णय 31 मार्च को जिला प्रशासन, मेला प्राधिकरण और सेना के साथ बैठक तथा इसके बाद की बैठक में हो चुका है। मरम्मत के लिए एक माह तक अक्षयवट बंद करने की योजना है, लेकिन यह समय सेना तय करेगी।

Posted By: Yogendra Sharma