Weather Alert । भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने देश के पूर्वी हिस्सों में दक्षिण-पश्चिम मानसून के चलते भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने कहा है कि कर्नाटक, कोंकण और गोवा, केरल और माहे और लक्षद्वीप में गरज-चमक के साथ बहुत तेज बारिश हो सकती है। वहीं आने वाले 5 दिनों में मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में भारी बारिश हो सकती है। IMD के मुताबिक बंगाल की खाड़ी से उत्तर-पूर्व और उससे सटे पूर्वी भारत और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में अगले 5 दिनों के दौरान भारी बारिश की संभावना है। साथ ही उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय और नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भारी बारिश की संभावना है।

तेजी से आगे बढ़ रहा है मानसून

मौसम विभाग ने कहा है कि देश में दक्षिण पश्चिम मानसून तेजी से आगे बढ़ रहा है और अगले 5 दिनों के दौरान बिहार, झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, विदर्भ और गंगीय पश्चिम बंगाल में भारी बारिश हो सकती है।

इन राज्यों में हो रही अच्छी बारिश

मौसम विभाग ने बीते 24 घंटे में बारिश का अपडेट देते हुए बताया कि पंजिम, कार निकोबार, महाबलेश्वर, पोरबंदर, जगदलपुर और पोर्ट ब्लेयर, चुर्क और डाल्टनगंज में भारी बारिश हुई है। वहीं सौराष्ट्र और कच्छ में कुछ स्थानों पर और पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात क्षेत्र, विदर्भ, छत्तीसगढ़, ओडिशा, असम और मेघालय और लक्षद्वीप में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ छींटे पड़े।

असम में बाढ़ से हालात खराब, अब तक 108 लोगों की मौत

असम में बाढ़ की स्थिति लगातार बेकाबू है। राज्य में अभी तक 108 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री हिमंत विश्व सरमा ने बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित सिलचर शहर का हवाई सर्वेक्षण किया है। असम के 30 जिलों में बाढ़ से 45.34 लाख लोग प्रभावित हुए हैं, जबकि 32 जिलों में बाढ़ से प्रभावित लोगों की संख्या 54.5 लाख हो चुकी है। इधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि केंद्र असम में बाढ़ की स्थिति पर लगातार नजर रख रहा है और इस चुनौती से निपटने के लिए हर संभव सहायता मुहैया कराने के लिए राज्य सरकार के साथ मिलकर काम कर रहा है.

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close