Maharashtra Religious Places To Re Open: महाराष्ट्र सरकार ने राज्य के सभी मंदिरों और अन्य धार्मिक स्थलों को सोमवार (16 नवंबर) से खोलने की अनुमति प्रदान कर दी है। Uddhav Thackeray सरकार ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और Covid-19 प्रोटोकॉल का पालन करने को कहा है। धार्मिक स्थलों में मास्क के बगैर प्रवेश की अनुमति नहीं रहेगी।

उ्दधव ठाकरे ने पिछले सप्ताह कहा था कि राज्य के मंदिर और अन्य धार्मिक स्थलों को शीघ्र ही खोलने की अनुमति प्रदान कर दी जाएगी। महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को इस फैसले की घोषणा कर दी। उन्होंने संकेत दिए कि दीपावली के बाद 9 से 12वीं तक की कक्षाओं को भी वापस शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा, हम 9 से 12वीं तक की क्लासों को दीवाली के बाद शुरू करने पर विचार कर रहे हैं। स्कूल शुरू करने के दौरान सुरक्षा के पूरे उपाय बरते जाएंगे।

उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति में देरी के लिए उनकी आलोचना की जा रही है, लेकिन उन्होंने कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए यह फैसला लिया। धार्मिक स्थलों के बाहर लगने वाली लंबी कतारों से कोरोना के फैलने का खतरा बढ़ जाता। मैं अपनी आलोचना सहन करने को तैयार हूं, लेकिन जल्दी धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति देने पर यदि कोरोना बढ़ता तो कोई उसकी जिम्मेदारी लेने नहीं आता।

महाराष्ट्र में धार्मिक स्थलों को खोलने को लेकर राज्यपाल बीएस कोश्यारी और मुख्यमंत्री ठाकरे के बीच एक महीने तक पत्राचार होने के बाद यह फैसला लिया गया है। पिछले महीने राज्यपाल ने धार्मिक स्थलों को वापस खोलने में हो रही देरी को लेकर मुख्यमंत्री से सवाल पूछा था। उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई कि सरकार ने बार, रेस्टारेंट्स और समुद्र तटों को खोल दिया है, लेकिन धार्मिक स्थलों पर बंदिश लगाकर रखी गई है। राज्यपाल ने कहा था कि उनके पास धार्मिक स्थल खोलने को लेकर कई निवेदन आए थे।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Budget 2021
Budget 2021