जम्मू। भारतीय सैन्य अफसरों ने इंटरनेट पर भारतीय लोगों से अपील की है कि वह पाकिस्तानी सेना की ओर से बंदी बनाए गए भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्तमान के वीडियो साझा न करें। चूंकि पाकिस्तानी सेना ने उनके पांच वीडियो भारत के खिलाफ मनोवैज्ञानिक जंग जीतने के लिए बनाकर जारी किए हैं।

सोशल मीडिया पर इसे कतई साझा न करें। भारतीय सैन्य वक्तव्य के जरिए कहा गया है कि पाकिस्तानी सेना ने अभिनंदन के पांच वीडियो बनाकर वाट्सएप, ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर जारी किए हैं। पाकिस्तानी सेना और पाकिस्तानी मीडिया ऐसा भारत के खिलाफ मनोवैज्ञानिक लड़ाई छेड़ने के लिए कर रही है।

अधिकारियों ने कहा कि ट्रोलिंग के पाकिस्तानी दुष्प्रचार के झांसे में न आएं। इंटरनेट उपभोक्ताओं में इन वीडियो को शेयर करने वाले ज्यादातर लोग पूर्व सैनिक, उनके ग्रुप के और अन्य लोग हैं। वही इसे फारवर्ड भी अधिक कर रहे हैं। कृपया पायलट का वीडियो कतई साझा न करें। इन वीडियो को जारी करने का मकसद भारतीय सुरक्षा बलों और भारतीय नागरिकों का मनोबल गिराना है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket