चेन्नई। पाकिस्तान सीमा पार से लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है। इसके पीछे उसकी मंशा जम्मू कश्मीर में आतंकी घुसपैठ कराने की है। पाकिस्तान की इस कोशिश को भारतीय जवानों द्वारा लगातार नाकाम किया जा रहा है। इस बीच पाक की इस ना'पाक' हरकत को लेकर भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत ने भी पाक को करारा जवाब दिया है।

चेन्नई में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा कि 'पाकिस्तान हमारे क्षेत्र में आतंकी घुसपैठ कराने के लिए सीजफायर का उल्लंघन करता है। हम जानते हैं कि सीजफायर उल्लंघन से हमें कैसे निपटना है। हमारी सेना के जवानों को पता है कि ऐसी स्थिति में कैसे एक्शन लेना है। हम अलर्ट हैं और विश्वास दिलाते हैं कि घुसपैठ की ज्यादातर कोशिशें नाकाम कर दी गई हैं।'

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चेन्नई में मीडिया को संबोधित करते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि बालाकोट में आतंकी कैंप फिर से सक्रिय हो गए हैं। जिसे 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना द्वारा नष्ट कर दिया गया था। उन्होंने कहा लगभग 500 आतंकी भारत में घुसपैठ करने का इंतजार कर रहे हैं।

इसके पूर्व आर्मी चीफ ने कहा कि 'जम्मू कश्मीर में मौजूद आतंकियों और पाकिस्तान में बैठे उनके हैंडलर्स के बीच कम्यूनिकेशन ब्रेकडाउन हो चुका है, लेकिन अब तक पीपुल टू पीपुल यह ब्रेकडाउन नहीं हो सका है।'

सेना प्रमुख ने यह भी कहा कि 'मैं महसूस करता हूं कि कुछ लोगों द्वारा माहौल बिगाड़ने के लिए इस्लाम की जो व्याख्या की गई थी बड़ी संख्या में लोगों के दिमाग में वह धुंधली होती जा रही है। मैं सोचता हूं कि यह जरूरी है कि हमारे पास ऐसे उपदेशक हों जो इस्लाम की सही व्याख्या कर सकें।'

बता दें कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 को कमजोर करते हुए उसे विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने के बाद से ही पाकिस्तान सीमा पर लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है। इसकी आड़ में वह भारत में आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश में लगा हुआ है।