श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान में जबरदस्त बौखलाहट है। अब वहां से भारतीय सेना में फूट डालने की कोशिश हो रही है। पाकिस्तान के एक पत्रकार का ट्वीट सामने आया है, जिसमें उसने एक मनगढंत घटना का जिक्र किया और यह कहना चाहा कि जम्मू-कश्मीर पुलिस के कश्मीरी मुस्लिम और सीआरपीएफ आमने-सामने आ गए हैं। हालांकि सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इसका खंडन किया और तत्काल जवाब दिया कि कश्मीर में सभी भारतीय सैनाएं एकजुट हैं और सभी तिरंगे की हिफाजत के लिए तैयार हैं। पढ़िए पूरा घटनाक्रम -

पाकिस्तान के एक पत्रकार ने ट्वीट किया कि 'कश्मीर में तैनात भारतीय फौजों में आपसी झगड़ा शुरू हो गया है। एक मुस्लिम कश्मीरी पुलिसकर्मी ने सीआरपीएफ के पांच जवानों की गोली मारकर हत्या कर दी, क्योंकि उन जवानों ने एक प्रेगनेंट मुस्लिम महिला को नहीं जाने दिया। उस महिला के पास कर्फ्यू पास नही था। इस घटनाक्रम के बाद कश्मीर में हालात बिगड़ गए हैं।' खास बात यह है कि पाकिस्तान से ये बातें जिस ट्विटर अकाउंंट पर लिखी गईं, वह वेरिफाइड है।

यह ट्वीट सामने आने के बाद सीआरपीएफ ने अपने आधारिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा - पाकिस्तान का यह दुष्प्रचार आधारहीन है। हमेशा की तरह सभी भारतीय सुरक्षाबल आपसी समन्वय से काम कर रहे हैं। देशभक्ति का जज्बा हर जवान के दिल में है। वर्दी का रंग अलग हो सकता है, लेकिन हम तिरंगे का शान बढ़ाना ही हमारा फर्ज है।

इसी तरह जम्मू-कश्मीर के पुलिस अधिकारी इम्तियाज हुसैन ने लिखा - पाकिस्तान के लोग किस काल्पनिक दुनिया में जी रहे हैं। यदि पाकिस्तान के वेरिफाइड अकाउंट्स से ये बातें लिखी जा रही हैं, तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत के खिलाफ किस तरह दुष्प्रचार हो रहा है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020