नई दिल्ली। बुधवार को पूरे देश से दक्षिण-पश्चिम मानसून लौट गया। मौसम विभाग ने यह घोषणा करते हुए बताया कि आठ दिन पहले इसने उत्तर-पश्चिम भारत से लौटना शुरू किया था। इस बार यह न केवल सबसे लेट वापस गया है, बल्कि सबसे तेजी से भी लौटा है। मौसम विभाग ने यह भी कहा कि जहां दक्षिण-पश्चिम मानसून लौट गया है वहीं उत्तर-पूर्वी मानसून का आगाज हो गया है। इसके प्रभाव से तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक व केरल में बारिश होती है। इस दौरान दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी से पश्चिमी-मध्य बंगाल की खाड़ी तक पूर्वी हवाएं चलेंगी। इनके असर से बारिश होगी।

अगले 24 घंटों में यहां हो सकती है भारी बारिश

उत्तर-पूर्वी मानसून के कारण पिछले 24 घंटों के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश के दक्षिणी जिलों में मध्यम से भारी बारिश हुई है। आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले 24 घंटों के दौरान, तिरुपति में 56 मिमी, नेल्लोर में 40 मिमी, कवाली में 68 मिमी, ओंगोल में 46 मिमी, नरसिंहपुर में 14 मिमी, काकीनाडा में 8 मिमी, बापटला में 6 मिमी और मछलीपट्टनम में हल्की बारिश हुई।

मौसम विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान तटीय आंध्र प्रदेश और रायलसीमा में भारी बारिश होने की संभावना है। इसके बाद बारिश की तीव्रता कम हो जाएगी। पूर्वोत्तर मानसून अगले दो से तीन दिनों में तटीय आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु तक पहुंच जाएगा।

इसी दौरान दक्षिण-पूर्व अरब सागर में एक लो-प्रेशर एरिया विकसित होने की भी उम्मीद है। इसलिए, नमी की मात्रा दक्षिण पूर्व अरब सागर पर केंद्रित होगी। इस कारण आंध्र प्रदेश सहित आंतरिक प्रायद्वीप पर बारिश कम हो जाएगी।

Posted By: Arvind Dubey

fantasy cricket
fantasy cricket