मेरठ। अयोध्या में राम मंदिर मसले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद आतिशबाजी कर रहे छह युवकों को दो अलग-अलग इलाकों से गिरफ्तार किया गया है। एक युवक को फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। नगर पुलिस अधीक्षक अखिलेश नारायण ने बताया कि नौचंदी और ब्रह्मपुरी में धारा 144 का उल्लंघन करते हुए आतिशबाजी करने के आरोप में पुलिस ने छह युवकों को पकड़ा है। इसके अलावा फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के मामले में सिविल लाइन थाने की पुलिस ने लक्ष्मण शर्मा नाम के युवक को गिरफ्तार किया है। वह मूल रूप से मथुरा में थाना नौहझील के ग्राम भगवान गढ़ी का रहने वाला है। आरोपी के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। ब्रह्मपुरी क्षेत्र में पुलिस ने अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कार्यालय को सील करते हुए राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा को नजरबंद कर दिया है।

बीकानेर जिले में एक गिरफ्तार

राजस्थान के बीकानेर जिले में सोशल मीडिया पर अयोध्या मामले से संबंधित आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में एक 30 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि आरोपित की पहचान खारदा गांव के निवासी श्रीकृष्ण के रूप में की गई है। उसने शुक्रवार रात को फेसबुक पेज पर आपत्तिजनक पोस्ट डाला था। नापासर पुलिस थाना के प्रभारी संदीप कुमार ने बताया कि आरोपित ने नशे की हालत में आपत्तिजनक पोस्ट सोशल मीडिया पर डाला था।

दूसरी तरफ, अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले की वजह से ऐहतियाती तौर पर राजस्थान के कुछ हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को रोक दिया गया है। जयपुर के संभागीय आयुक्त केसी वर्मा ने शनिवार को बताया कि मोबाइल इंटरनेट सेवाएं जयपुर, अलवर तथा सीकर में रविवार सुबह दस बजे तक निलंबित रहेंगी। उन्होंने बताया कि यद्यपि कहीं से किसी अप्रिय घटना का समाचार नहीं है, लेकिन यह कदम कानून-व्यवस्था की स्थिति को ध्यान में रखकर ऐहतियाती तौर पर उठाए गए हैं।

Posted By: Navodit Saktawat