PMJAY: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में आयुष्मा भारत योजना के बारे में भी बात की। उन्होंने बताया कि किस तरह Ayushman Bharat Yojana (PMJAY, Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana) में पोर्टेबिलिटी की सुविधा है। पीएम मोदी ने कहा, आयुष्मान भारत योजना के साथ एक बड़ी विशेषता पोर्टेबिलिटी की सुविधा भी है। पोर्टेबिलिटी ने, देश को, एकता के रंग में रंगने में भी मदद की है, यानी बिहार का कोई गरीब अगर चाहे तो, उसे कर्नाटक में भी वही सुविधा मिलेगी, जो उसे अपने राज्य में मिलती। इसी तरह महाराष्ट्र का कोई गरीब चाहे तो उसे इलाज की वही सुविधा तमिलनाडु में मिल सकती है। इस योजना के कारण किसी क्षेत्र में, जहां स्वास्थ्य की व्यवस्था कमजोर है, वहां गरीब को देश को किसी भी कोने में उत्तम इलाज की सहूलियत मिलती है।

Ayushman Bharat Yojana के बारे में यह भी बोले पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, 'हमारे देश में करोड़ों-करोड़ गरीब, दशकों से एक बहुत बड़ी चिंता में रहते आए हैं- अगर बीमार पड़ गए तो क्या होगा? इस चिंता को दूर करने के लिए ही करीब डेढ़ साल पहले 'आयुष्मान भारत' योजना शुरू की गई थी। कुछ ही दिन पहले 'आयुष्मान भारत' के लाभार्थियों की संख्या एक करोड़ पार हो गई है।'

आयुष्मान भारत योजना ने गरीबों के पैसे खर्च होने से बचाए हैं।

'मैं आयुष्मान भारत के सभी लाभार्थियों के साथ-साथ मरीजों का उपचार करने वाले सभी डॉक्टरों-नर्सों और मेडिकल स्टाफ को बधाई देता हूं।' आयुष्मान भारत योजना के 1 करोड़ लाभार्थियों में से करीब 80 प्रतिशत लाभार्थी ग्रामीण इलाके के हैं। इसमें से भी करीब 50 प्रतिशत लाभार्थी महिलाएं-बेटियां हैं। इन लाभार्थियों में ज्यादातर ऐसी बीमारी से पीड़ित थे जिनका इलाज सामान्य दवाओं से संभव नहीं था।'

चक्रवाती तूफान का भी जिक्र

पीएम ने कहा, 'एक तरफ हम महामारी से लड़ रहे हैं, तो दूसरी तरफ हमें हाल में पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में प्राकृतिक आपदा का भी सामना करना पड़ा है। हालात का जायजा लेने के लिए मैं ओडिशा और पश्चिम बंगाल गया था। संकट की इस घड़ी में देश भी, हर तरह से वहां के लोगों के साथ खड़ा है।'

Posted By: Arvind Dubey