Amulya Leona नाम की लड़की अचानक सुर्खियों में आ गई है। बेंगलुरु के फ्रीडम पार्क में बीती रात पाकिस्‍तान जि़ंदाबाद के नारे लगाने के बाद विवादों में आई चिंकमंगलूर निवासी अमूल्‍या अब बजरंग दल कार्यकर्ताओं के निशाने पर आ गई है। खबर है कि गुरुवार की रात विवादित नारों के बाद बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने Chikkamagalur में कोप्‍पा स्थित शिवपुरा गांव में अमूल्‍या के माता-पिता के घर के बाहर पथराव किया और उनसे अमूल्‍या के इस राष्‍ट्र विरोधी बर्ताव के लिए स्‍पष्‍टीकरण भी मांगा।

गुरुवार की रात जैसे ही अमूल्‍या ने 'Pakistan Zindabad' पाकिस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाए, वहां मौजूद सारे कॉलेज स्‍टूडेंट्स सकते में आ गए। हालांकि घटना के करीब 20 घंटे बाद भी अभी यह तय नहीं हो पाया है कि उसने ऐसा क्‍यों किया और वह ऐसा करके क्‍या कहना चाह रही थी। घटना के वीडियो में देखा जा सकता है कि जैसे ही Amulya Leona ने तीन बार नारेबाजी की, वहां मौजूद हैदराबाद के सांसद Asaduddin Owaisi तुरंत वहां लपके और झट से उसके हाथ से माइक छीन लिया।

आयोजकों ने उसे हिदायत देते हुए कहा कि वह ऐसे नारे यहां नहीं लगा सकती। जवाब में अमूल्‍या बोलीं, आप लोगों ने मुझे माइक दिया है, सो अब मुझे बोलने दें। बाद में उसे Hindustan Zindabad हिंदुस्‍तान जिंदाबाद कहते हुए भी सुना गया। जिस समय मंच पर खड़े लोग और दीर्घा के दर्शक यह देखकर दंग रह गए थे, वहां पुलिस आई तो अमूल्‍या ने कहा, जब मैं पाकिस्‍तान जिंदाबाद कहती हूं और हिंदुस्‍तान जिंदाबाद कहती हूं तो इसमें फर्क है।

अमूल्‍या के पिता और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के बीच हुई यह बातचीत

बजरंग दल: क्या आप अपनी बेटी के बयान को ठीक मानते हैं?

पिता: नहीं, मैं इसे ठीक नहीं मानता। यह निश्चित रूप से एक गलती है।

बजरंग दल: क्या आप उसे अपने घर वापस आने देंगे?

पिता: हाँ, वह मेरी बेटी है।

बजरंग दल: क्या आपके कहने का मतलब है कि आप एक राष्ट्र-विरोधी को आश्रय देंगे?

पिता: नहीं। मैं उसे वापस नहीं आने दूंगा। उसे कुछ समय के लिए जेल में रहने दो।

बजरंग दल: आपको क्या लगता है कि केंद्र को उसके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए?

पिता: उसे जेल में सड़ने दो। कानून को अपना काम करने दें और कानून के अनुसार उसे दंडित करने दें। मुझे इससे कोई समस्या नहीं है।

बजरंग दल: आपने किस तरह की बेटी की परवरिश की है? क्या आप नहीं जानते कि उसने 10 दिन पहले मोदी विरोधी बयान दिए थे?

पिता: हाँ। मुझे इसकी जानकारी है। और सिर्फ मैं ही नहीं, पूरा परिवार उसके व्यवहार से निराश है। वह हमेशा एक विद्रोही रही है और कभी भी हमारे शब्दों पर ध्यान नहीं दिया।

बजरंग दल: आप किससे डरते हैं? आपकी बेटी ने कहा कि जब उसने मोदी के खिलाफ बात की थी, तो आपने जाँच की थी कि क्या वह सुरक्षित है। आपको लगता है कि आप भारत या पाकिस्तान में कहां रह रहे हैं? हम हिंदुस्तान से प्यार करते हैं और हम हिंदू हैं। आपको अपने देश से प्यार है या नहीं?

पिता: मैं भी एक हिंदू हूं और अपने देश से प्यार करता हूं। मैं पिछले पांच दिनों से उसके (उसकी बेटी) के संपर्क में नहीं था। वास्तव में मैं हाल ही में बेंगलुरु में रुका था और घर लौटने के लिए राजी किया था, लेकिन वह हिलता-डुलता नहीं था। वास्तव में आखिरी बार जब मैंने फोन किया, तो मैंने उसे अस्पताल ले जाने के लिए कहा क्योंकि मैं दिल का मरीज हूं। तब भी वह नहीं आना चाहती थी।

बजरंग दल: हिंदुस्तान जिंदाबाद कहो। ज़ोर से बोलो।

पिता: हिंदुस्तान जिंदाबाद

Posted By: Navodit Saktawat

fantasy cricket
fantasy cricket