बेंगलुरु। कर्नाटक के गृह मंत्री बासवराज बोम्मई ने शुक्रवार को कहा कि बेंगलुरु व मैसुरु में कुछ आतंकी स्लीपर सेल सक्रिय हैं। उन्होंने तटीय कर्नाटक के साथ ही बंगाल की खाड़ी में अपनी गतिविधियां तेज कर दी हैं। एनआईए नेजमातुल मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के आतंकियों की संदिग्ध गतिविधियां का पता चला है।

बता दें, बीते दिनों दिल्ली में देशभर के एटीएस प्रमुखों की बैठक में एनआईए के प्रमुख वाईसी मोदी ने कहा था कि जेएमबी के आतंकियों ने झारखंड, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक व केरल में बांग्लादेशी प्रवासियों के रूप में अपनी गतिविधियां फैला दी हैं। विभिन्न राज्यों में जेएमबी के 125 आतंकी सक्रिय हैं। 2014 से 2018 के बीच जेएमबी ने बेंगलुरु में 20-22 ठिकाने बना लिए हैं और दक्षिण भारत में अपनी गतिविधियां फैलाना चाहता है।

मैसुरु में पत्रकारों से चर्चा करते हुए बोम्मई ने कहा कि बेंगलुरु व मैसुरु में स्लीपर सेल सक्रिय होने की संभावना है, इसलिए एनआईए हम से अतिरिक्त सतर्कता चाहता है। उन्होंने चेताया कि जेएमबी ने न केवल तटीय व अंदरूनी कर्नाटक में अपनी गतिविधियां तेज की है, बल्कि वह समूची बंगाल की खाड़ी अरब सागर के तटीय क्षेत्रों में सक्रिय है।

बेंगलुरु के लिए एटीएस

एनआईए के साथ हाल ही में दिल्ली में हुई बैठक का जिक्र करते हुए बोम्मई ने कहा कि जांच एजेंसी ने कश्मीर पर बांग्लादेश के आतंकियों पर खासतौर पर नजर रखने को कहा। कर्नाटक के गृह मंत्री ने कहा कि राज्य में अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों की आवाजाही भी बढ़ गई है। इन हालातों को देखते हुए कर्नाटक पुलिस को अलर्ट किया गया है। बेंगलुरु व मैसुरु के संदर्भ में खास सतर्कता बरती जा रही है। संदिग्धों पर नजर रखी जा रही है और सार्वजनिक स्थानों पर लोगों की तलाशी ली जा रही है। एक नवंबर से बेंगलुरु के लिए खास एटीएस काम शुरू कर देगा। कर्नाटक में पहले से एक एटीएस कार्यरत है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020