बिहार सरकार (Nitish Government) ने कोरोना से जान गंवाने के मामले में लोगों को एक और बड़ी राहत देने का फैसला किया है। नीतीश सरकार ने घोषणा की है कि अगर किसी कोरोना संक्रमित की रिपोर्ट निगेटिव हो जाती है, और उसके बाद कोविड संबंधी परेशानियों की वजह से मरीज की मौत हो जाती है, तब भी उसके परिवार को सीएम रिलीफ फंड (CM Relief Fund) से 4 लाख रुपए दिए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने इसकी घोषणा करते हुए कहा पोस्ट कोविड मौतों के मामले में भी 10 दिन के अंदर सहायता राशि दी जाएगी।दरअसल अब तक वैसे लोगों को इसका लाभ नहीं मिल रहा था, जिनकी इलाज के बाद रिपोर्ट नेगेटिव आई हो, लेकिन कुछ ही दिनों के भीतर मौत हो गई हो। अब ऐसे मरीजों को परिजनों को भी सीएम रिलीफ फंड से सहायता दी जाएगी।

प्रधान सचिव ने बताया कि ऐसे कई मामले आए हैं, जिसमें मरीज अस्पताल में भर्ती हुआ और इलाज के दौरान उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव से निगेटिव हो गई। लेकिन इस दौरान उसकी अस्पताल में या घर में मौत हो गई। ऐसे मामलों के चलते सरकार ने ये फैसला लिया है, ताकि परिजनों को कुछ राहत मिल सके।

प्रधान सचिव ने साफ किया है कि अगर किसी मरीज को कोरोना के लक्षण हैं लेकिन उसकी रिपोर्ट कभी पॉजिटिव नहीं आई, तो ऐसे मामले में मृतक के परिजनों को कोई सहायता राशि नहीं मिलेगी। दरअसल भारत सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक जिसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव होगी, उसी की मौत को कोरोना से मौत माना जाएगा। बताया गया कि राज्य में कोरोना से अब तक राज्य में 9429 लोगों की मौत हुई है, जिसमें से 3737 लोगों के लिए फंड रिलीज कर दिया गया है।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags