नई दिल्ली। सीबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के पूर्व डिप्टी मैनेजर गोकुलनाथ शेट्टी के खिलाफ अनुपातहीन संपत्ति का केस दर्ज किया है। वह पीएनबी को 11,400 करोड़ का चूना लगाने वाले नीरव मोदी घोटाले का मुख्य आरोपित है। शेट्टी के पास उसकी आय के ज्ञात स्रोतों से 200 फीसदी ज्यादा संपत्ति मिली है।

सीबीआई अफसरों ने बताया कि शेट्टी के खिलाफ केस केंद्रीय जांच एजेंसी की मुंबई स्थित भ्रष्टाचार विरोधी शाखा ने दर्ज किया है। शेट्टी व उनकी पत्नी आशालता पर आरोप है कि उन्होंने 1 अप्रैल 2011 से 31 मई 2017 के बीच भारी मात्रा में चल-अचल संपत्ति जुटाई है। 31 मई 2017 को शेट्टी रिटायर हुआ है। इंडियन बैंक में क्लर्क है पत्नी शेट्टी की पत्नी आशालता इंडियन बैंक में क्लर्क है।

सीबीआई एफआईआर के अनुसार दंपती ने उक्त अवधि में 2.63 करोड़ रुपए की संपत्ति बनाई, जो कि उनकी आय के ज्ञात स्रोतों की तुलना में 238.44 फीसदी अनुपातहीन है। यह भी आरोप लगाया गया है कि आशालता ने पति शेट्टी को संपत्ति बनाने व छिपाने में सक्रिय मदद की। यह अवैध तरीके से हासिल की गई। इसलिए वह लोक सेवक रहते हुए अनुपातहीन संपत्ति अर्जित करने के आरोपित हैं। फरवरी में किया था गिरफ्तार पीएनबी के पूर्व अफसर को सीबीआई ने इसी साल फरवरी में हीरा कारोबारी नीरव मोदी व मेहुल चौकसी का घोटाला उजागर होने के बाद गिरफ्तार किया था।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना