मौसम अपडेट: देश के कई हिस्सों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने गुरुवार को कहा कि दक्षिणी भारत के कुछ हिस्सों में सोमवार तक भारी बारिश होने की संभावना है। इस हफ्ते की शुरुआत में मौसम एजेंसी ने तमिलनाडु में भारी बारिश की भविष्यवाणी करते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया था। दक्षिण भारतीय राज्यों में बारिश अगले कुछ दिनों तक जारी रहने की संभावना है। आईएमडी ने कहा है कि 29 नवंबर के आसपास दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके बाद के 48 घंटों के दौरान पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और बढ़ने का अनुमान है। दक्षिण भारतीय राज्यों में बारिश अगले कुछ दिनों तक जारी रहने की संभावना है। आईएमडी ने कहा है कि 29 नवंबर के आसपास दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके बाद के 48 घंटों के दौरान पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और बढ़ने का अनुमान है।

जानिये कहां कितनी बारिश का अनुमान

25 से 29 नवंबर के दौरान तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।26 और 27 तारीख को दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश और यनम और रायलसीमा में भी भारी बारिश की संभावना है।25 और 26 नवंबर, 2021 को दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी, कोमोरिन क्षेत्र, मन्नार की खाड़ी और दक्षिण तमिलनाडु तट के साथ-साथ तेज हवा (40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 60 किमी प्रति घंटे तक की गति) की बहुत संभावना है। 29 नवंबर, 2021 के आसपास दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की बहुत संभावना है। इसके बाद के 48 घंटों के दौरान और अधिक विकसित होने और पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। इसके प्रभाव से 29 और 30 नवंबर को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। आईएमडी ने मंगलवार को कहा था कि तमिलनाडु में 26 नवंबर को भारी बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ेंगी। एजेंसी ने इसके लिए 'ऑरेंज' अलर्ट जारी किया है। इस बीच, अगले पांच दिनों के दौरान कर्नाटक, केरल और माहे और तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।

दिल्ली-एनसीआर में सुधरेगी हवा

इस बीच राष्ट्रीय राजधानी के निवासियों के लिए वायु प्रदूषण जारी है। 27 नवंबर से मामूली सुधार के साथ दिल्ली-एनसीआर की वायु गुणवत्ता अगले दो दिनों तक खराब रहेगी। 27 नवंबर को स्थानीय सतही हवाओं के भी बढ़ने की उम्मीद है जिसके परिणामस्वरूप वायु गुणवत्ता में सुधार होगा। हालांकि, यह बहुत खराब श्रेणी में बना रहेगा।

Posted By: Navodit Saktawat