नई दिल्ली। विक्रम लैंडर से संपर्क टूटने की मुश्किल घड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार वैज्ञानिकों के साथ खड़े रहे और अपने भाषण से सबका हौसला बढ़ाया।

जब वह वहां से जाने को हुए तो ISRO प्रमुख के. सिवन अपने आंसू रोक नहीं पाए। उनके आंसू देखते ही मोदी ने उन्हें गले से लगा लिया।

मोदी की इस प्रतिक्रिया की सोशल मीडिया पर जमकर सराहना की जा रही है। सिवन व उनके बीच के इस भावुक पल का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

हजारों लोगों ने शेयर किया

हजारों लोगों ने इस वीडियो को फेसबुक, ट्विटर व इंस्टाग्राम आदि पर शेयर किया है। मोदी के इस भाव को देखकर सोशल मीडिया यूजर्स अभिभूत हैं। कुछ यूजर्स ने मोदी की इस प्रतिक्रिया को प्रेरणादायक नेतृत्व का सबक बताया है।

उस समय वहां मौजूद थे ये अधिकारी

बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर ने ट्वीट किया, 'मैं तब वहीं था। मैंने पीएम को सिवन का उत्साह बढ़ाते देखा। यह कुशल नेतृत्व, संकट में धैर्य, वैज्ञानिक समुदाय के प्रति भरोसा जताने और देश की तरक्की की उम्मीद का प्रतीक था। मुझे आज मूल्यवान सबक मिले हैं।'

पूर्व राजदूत डेनियल कार्मन ने भी की तारीफ

भारत में इजरायल के पूर्व राजदूत डेनियल कार्मन ने भी मोदी की तारीफ की है। एक यूजर ने लिखा कि वह पीएम व सिवन का वीडियो देखकर बेहद भावुक थे। दोनों ने करोड़ों दिलों को जीत लिया है।

Users ने दिए ऐसे कमेंट्स

- एक यूजर ने लिखा, 'मेरे PM के अंदर मानवता है जो सबसे बढ़कर है। यही उन्हें अन्य से अलग करता है। इसी के चलते हमने उन्हें चुना है।'

- एक यूजर ने लिखा, 'विक्रम लैंडर मिल गया है। देखते हैं आगे क्या होता है। कई महत्वपूर्ण जानकारियां सामने आ सकती हैं।'