Chinese App Ban: चीन के साथ तनाव बढ़ने के बाद भारत सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए Tiktok समेत 59 लोकप्रिय ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया। चीनी ऐप कंपनियों के लिए यह बहुत बड़ा झटका है, क्योंकि भारत में इसके करोड़ों यूजर्स हैं। बहरहाल, बैन के बाद इन चीनी कंपनियों ने उम्मीद नहीं छोड़ी है। खबर है कि ये कंपनियां भारत सरकार के सामने अपना पक्ष रखने की योजना बना रही है। ये सरकार को बताना चाहती हैं कि उनके यहां के कोई जानकारी चीनी सरकार तक नहीं पहुंचाई जा रही है और वे भारत में सभी नियमों का पालन करते हुए सेवाएं दे रहे हैं।

चीनी कंपनियों का यह बयान तब आया है जब ऐपल और गूगल को भारत सरकार की ओर से आधिकारिक सूचना मिल गई, जिसमें स्पष्ट कर दिया गया है कि ये प्लेटफॉर्म अपने यहां से इन चीनी ऐप्स को हटा दें। इससे पहले Tiktok इंडिया के प्रमुख निखिल गांधी ने ट्वीट किया कि भारत सरकार ने Tiktok समेत 59 चीनी ऐप को अंतरिम आदेश के जरिये ब्लॉक कर दिया है। अपना स्पष्टीकरण देने के लिए सरकार के संबंधित साझीदारों की ओर से हमें बुलाया गया है। Tiktok लगातार डाटा प्राइवेसी और सुरक्षा का पालन करता आ रहा है। चीनी सरकार समेत किसी भी विदेशी सरकार से हमने भारतीय यूजरों की सूचनाएं शेयर नहीं की हैं। इसी तरह हेलो (HELO) ने भी सफाई दी है कि वह सभी सरकारी आदेशों का पालन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और सरकारी साझीदारों से अपना जवाब देने का प्रयास कर रहे हैं।

इन चीनी कंपनियों के इस स्पष्टीकरण का कोई अर्थ नहीं है, क्योंकि Tiktok की पैरेंट कंपनी बाइटडांस का कहना है कि Tiktok चीन के बाहर है और इसकी सूचनाएं भी चीन से बाहर सर्वर में सेव होती हैं। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह भी है कि यह चीनी कंपनी चीन की सरकार से पूरा डाटा शेयर करने को कानूनन बाध्य होती है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना