नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बुधवार को मुलाकात करेंगी। दोनों नेताओं के बीच नई दिल्ली में यह मुलाकात होगी। यह मुलाकात शाम होने की जानकारी सामने आ रही है। वहीं सीएम ममता बनर्जी ने इस मुलाकात को 'औपचारिक मुलाकात' बताया है।

उन्होंने बताया कि पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान वे पश्चिम बंगाल से जुड़े मुद्दे उठाएंगी। इसमें केंद्र से लंबित फंड और राज्य का नाम बदलने सहित अन्य मुद्दे रहेंगे।

India Today की रिपोर्ट के मुताबिक खुद ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से बुधवार को होने वाली मुलाकात की पुष्टि की है। आज पीएम मोदी के जन्मदिन पर सीएम ममता ने उन्हें बधाई भी दी।

दोनों नेताओं की मुलाकात के पहले गरमाई सियासत

राजनीति में पीएम मोदी की धुर विरोधी के तौर पर पहचानी जाने वाली सीएम ममता बनर्जी की पीएम मोदी से मुलाकात के पहले सियासत भी गरमाने लगी है। बता दें कि पीएम मोदी ने जब दूसरे कार्यकाल के दौरान पीएम पद की शपथ ली थी उस दौरान ममता बनर्जी उस कार्यक्रम में शामिल नहीं हुईं थी। वहीं जून में हुई नीति आयोग की बैठक से भी उन्होंने दूरी बना ली थी।

आखिरी बार पीएम मोदी और ममता बनर्जी 25 मई 2018 को शांति निकेतन में हुए विश्व भारती यूनिवर्सिटी कन्वोकेशन में हुई थी।

विपक्ष के निशाने पर आईं ममता बनर्जी

ममता बनर्जी की पीएम मोदी से मुलाकात की पुष्टि होने के बाद विपक्ष ममता बनर्जी पर हमलावर होने लगा है। सीपीएम और कांग्रेस ने इसे भाजपा और टीएमसी के बीच 'पॉलिटिकल मैच फिक्सिंग' करार दे डाला है।

दोनों ही नेताओं के बीच हो रही यह बैठक इस लिहाज से भी महत्व रखती है क्योंकि सत्तारुढ़ तृणमूल कांग्रेस के कई नेता और पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार शारदा पोंजी स्कीम घोटाले के तहत सीबीआई के निशाने पर हैं।