CAA Protest: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देशभर में बवाल मचा हुआ है। विपक्ष इस कानून को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर बना हुआ है। कांग्रेस भी इसे काला कानून बताते हुए विरोध कर रही है। इस बीच अब देश की संसद में पास हो चुके इस कानून को लेकर कांग्रेस में ही दो फाड़ होती नजर आने लगी है। संसद में पास हो चुके कानून को लेकर पार्टी के भीतर ही अलग-अलग राय सामने आने लगी है। कानून के विशेषज्ञ नेताओं ने कानून के विरोध को असंवैधानिक बताया है। पार्टी के आला नेताओं कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद के बाद अब भूपेंद्र हुड्डा का हालिया बयान भी कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ाने वाला है।

भूपेंद्र हुड्डा ने दिया यह बयान

CAA को लेकर कांग्रेस की ओर से जारी विरोध के बीच हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र हुड्डा का बयान भी सामने आया है। उन्होंने कहा 'देश की संसद में अगर एक बार कोई कानून या एक्ट पास हो जाता है तो संवैधानिक तौर पर मैं सोचता हूं कि कोई भी राज्य को इसे लागू करने से ना नहीं कहना चाहिए और वह ऐसा नहीं कर सकती, हालांकि इसके legally Examined किया जाना चाहिए।'

कपिल सिब्बल ने कही यह बात

केरल लिटरेचर फेस्टिवल में शामिल हुए कपिल सिब्बल ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर बयान दिया। उन्होंने कहा कोई भी राज्य नागरिकता संशोधन कानून लागू करने से इंकार नहीं कर सकता है। संसद में कानून पास होने के बाद अगर कोई राज्य इसे लागू करने से इनकार करते हैं तो यह असंवैधानिक होगा। हालांकि राज्य इसका विरोध कर सकते हैं और विधानसभा में इसके खिलाफ संकल्प पारित कर सकते हैं।

सलमान खुर्शीद ने यह बात कही

राज्यसभा सांसद कपिल सिब्बल के CAA को लेकर बयान देने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद का बयान भी सामने आया है। उन्होंने कहा कि इस कानून की संवैधानिक स्थिति संदेहास्पद है। सुप्रीम कोर्ट ने अगर इसमें हस्तक्षेप नहीं किया तो यह कानून की किताब में कायम रहेगा और इसके चलते उसे सभी को मानना पड़ेगा।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020