अफगानिस्तान में तालिबान ने कब्जा कर लिया है। देश में अफरा-तफरी का माहौल है। लोग तालिबानियों के डर से पलायन करने को मजबूर हो गए हैं। इस बीच कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने अफगानिस्तान में आतंक मचाने वाले तालिबानियों में दो भारतीय युवाओं के शामिल होने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि दोनों शख्स केरल के निवासी हैं और मलयाली भाषा बोल रहे हैं।

शशि थरूर ने ट्वीट किया वीडियो

तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर ने ट्विटर पर वीडियो शेयर किया है। जिसमें दो लोगों के हाथ में बंदूक हैं और मलयाली भाषा बोल रहे हैं। शशि ने पोस्ट पर लिखा है कि इन्हें सुनकर लगता है कि वहां दो मलयाली तालिबान मौजूद हैं। एक ने 8 सेकंड तक मलयाली बोला और दूसरा सुन रहा है। सोशल मीडिया पर यह वीडियो काफी वायरल हो रहा है।

अफगानिस्तान की हालात पर पाकिस्तान जिम्मेदार

अफगानिस्तान मामलों की विशेषज्ञ संस्था के मुताबिक देश में तालिबान की वापसी के लिए पाकिस्तान जिम्मेदार है। पाक ने तालिबान को शरण दी थी, जब अफगान लड़ाके आतंकवादियों से युद्ध कर रहे थे। सेंटर फॉर पॉलिटिकल एंड फॉरेन अफेयर्स के अध्यक्ष फैबियन बुसरत ने टाइम्स ऑफ इजरायल में अपने आर्टिकल में लिखा है कि 2001 से यूएस और सेनाओं से लड़ाई के समय उत्तर-पश्चिमी पाक में पूरी सहायता की गई।

बांग्लादेश देगा तालिबान को मान्यता

बांग्लादेश के विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन ने कहा कि उनका देश तालिबान की बनाई गई सरकार को स्वीकार करेगा। उन्होंने कहा, फर्क नहीं पड़ता कि कौन नई सरकार बनाता है। अगर तालिबान सरकार बनती है, जो बन गई गई, तो हमारे दरवाजे उनके लिए खुले रहेंगे।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close