नई दिल्ली Corona Vaccine in Indiaदेश में कोरोना वैक्सीन तैयार करने की दिशा में तेजी से काम हो रहा है और सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से तैयार की जा रही कोविशील्ड वैक्सीन को जल्द ही मंजूरी मिल सकती है। दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया अगले दो सप्ताह में कोविशील्ड वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए अल्पाई कर सकती है। सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ आदर पूनावाला ने शनिवार को कहा कि देश में जल्द ही कोरोना वैक्सीन आएगी, अब इसमें देरी की संभावना नहीं है। आदर पूनावाला ने कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन के ट्रायल में नतीजे अच्छे आ रहे हैं। पूनावाला ने कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत के लिए जल्द ही आवेदन दिया जाएगा। इसका मतलब है कि वैक्सीन निर्माण बहुत तेजी से हो रहा है।

सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ आदर पूनावाला ने साफ किया है वैक्सीन के ट्रायल के दौरान एक भी केस को अस्पताल में भर्ती करने की स्थिति नहीं आई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सीरम इंस्टिट्यूट के दौरे पर पूनावाला ने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ वैक्सीन को लेकर शनिवार को विस्तृत चर्चा हुई। आदर पूनावाला ने कहा कि सीरम इंस्टिट्यूट ने पुणे में सबसे बड़ा संयंत्र बनाया है और मंडरी में नया कैंपस बनाया है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश के उन तीन शहरों का दौरा किया, जहां कोरोना वैक्सीन तैयार की जा रही है या इसका ट्रायल चल रहा है। पीएम मोदी हैदराबाद का दौरा करने के बाद अब पुणे पहुंचे और सीरम इंस्टीट्यूट में कोरोना वैक्सीन को लेकर चल रही तैयारियों को जायजा लेंगे। उन्होंने सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ आदर पूनावाला और अन्य अधिकारियों के साथ वैक्सीन को लेकर लंबी चर्चा की।

पुणे पहुंचने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैदराबाद और अहमदाबाद भी गए। हैदराबाद में भी वैक्सीन को लेकर तेजी से काम चल रहा है। वहीं अहमदाबाद में Zydus Cadila के प्लांट में कोरोना वैक्सीन का ड्रायल चल रहा है। पीएम Zydus Cadila के प्लांट पहुंचे और यहां तैयारियों का जायजा लिया।

अहमदाबाद की Zydus Cadila कंपनी ने 10 साल पहले स्वाइन फ्लू का टीका तैयार किया था और आज इस टीके का इस्तेमाल पूरी दुनिया में होता है। वहीं Zydus Cadila देश की पहली ऐसी कंपनी है, जो अपने दम पर वैक्सीन तैयार करने में जुटी है। यहां बन रही कोरोना वैक्सीन को Zydus D नाम दिया गया है। यह दुनिया की सबसे सुरक्षित कोरोना वैक्सीन हो सकती है, क्योंकि यह प्लाज्मा पर बनी है। इस वैक्सीन को फ्रीज में लंबे समय तक सुरक्षित रखा जा सकता है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Republic Day
Republic Day