नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस को लेकर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय और गृह मंत्रालय की प्रेस कांफ्रेंस में संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि देश में कोरोना के अब तक कुल 649 मामले सामने आए हैं। कोरोना की वजह से पिछले 24 घंटे में 4 लोगों की मौत हुई है और कोरोना वायरस के 42 नए मामले सामने आए हैं। उन्‍होंने बताया कि हमारे अनुरोध पर 17 राज्‍यों ने डेडिकेटेड हॉस्पिटल का निर्माण शुरू कर दिया है। देश में कोरेाना से अभी तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है।

लव अग्रवाल ने कहा कि जबकि कोराना वायरस के मामलों की संख्या में इजाफा हो रहा है, जिस दर से वे बढ़ रहे हैं वह अपेक्षाकृत स्थिर हैं। हालांकि, यह केवल प्रारंभिक अवस्था है। संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना वायरस का सामुदायिक प्रसारण चरण तब शुरू होता है, जब समुदाय और हम (सरकार) सामूहिक रूप से कार्य नहीं करते हैं और सरकार के दिशा-निर्देशों का सही तरीके से पालन नहीं करते हैं। लेकिन यदि हम सामाजिक दूरी (सोशल डिस्‍टेंसिंग) और इलाज का ठीक से पालन करें तो भारत में यह बीमारी घातक नहीं होगी।

गृह मंत्रालय की संयुक्‍त सचिव पुण्‍य सलिला श्रीवास्‍तव ने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए कदम उठा रही है कि कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन, आपूर्ति या वितरण किसी भी तरह से प्रभावित न हो। प्रवासी श्रमिकों को राज्य भोजन और आश्रय प्रदान करने के दिशा में काम किया जा रहा हैं।

देशवासी करें सरकार के निर्देशों का पालन करने की अपील

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के आर गंगा केतकर ने कहा कि सरकार द्वारा उठाए गए कदम इतने प्रभावी और बेहतर हैं कि यदि हम उनका सख्ती से पालन करें, तो देश में कोरोना वायरस के मामले मुश्किल से बढ़ेंगे।

Posted By: Yogendra Sharma