नई दिल्ली Coronavirus Crisis । पूरा देश फिलहाल कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रहा है और अब वैज्ञानिकों ने कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के लिए भी तैयार रहने के लिए कहा है। केंद्र सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के. विजय राघवन ने चेताया है कि आने वाले 6-7 माह को कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर भी आ सकती है और जनता को अभी से इसके प्रति सतर्क हो जाना चाहिए। वैज्ञानिक राघवन का कहना है कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर जरूर आएगी और इसे किसी भी हालात में रोका नहीं जा सकता है।

कोरोना की दूसरी लहर इसलिए हुई घातक

केंद्र सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के विजय राघवन का कहना है कि सार्स-सीओवी2 पहले से और अधिक म्यूटेंट हो रहा है इसलिए कोरोना संक्रमण की लहरों के लिए तैयार रहना चाहिए। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर की तीव्रता का पूर्वानुमान नहीं जताया गया था। के. विजय राघवन ने कहा कि कम ऐहतियाती उपाय, पहली लहर से आबादी में कम प्रतिरक्षा के चलते दूसरी लहर अधिक तीव्र हो रही है और इससे अभी तक देश में हजारों लोगों की जान जा चुकी है। और लाखों लोग संक्रमित हुए हैं।

वैक्सीनेशन बढ़ेगा तो आक्रामक होगा वायरस

प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार ने कहा कि जब कोरोना वैक्सिनेशन बढ़ेगा तो वायरस लोगों को संक्रमित करने के नए तरीके ढूंढेगा, जिसके लिए हमें अभी से तैयार रहना चाहिए। वायरस अपना रूप बदलता रहता है, इसलिए हमें वैक्सीन और दूसरे पहलुओं पर रणनीति बदलती रहनी होगी। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर फैलने के कई कारण है, जिसमें कोरोना के नए वेरिएंट भी एक फैक्टर है।

मौजूदा वैरिएंट के खिलाफ सफल है वैक्सीन

वैज्ञानिक के विजय. राघवन के अनुसार वैक्‍सीन कोरोना के मौजूदा वैरिएंट के खिलाफ सफल है। वैक्सीन लगने के साथ ही भारत सहित दुनिया से सभी देशों में कोरोना के नए वैरिएंट सामने आते रहेंगे। ऐसे में वैज्ञानिक इन अलग-अलग किस्‍मों के कोरोना स्ट्रैन से मुकाबला करने की तैयारी कर रहे हैं। सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार ने कहा कि जिस तरह से यह वायरस बढ़ रहा है, उसे देखते हुए तीसरी लहर जरूर आएगी, लेकिन यह कब और किस पैमाने पर आएगी, इसके बारे में अभी कह पाना बेहद मुश्किल है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags