Coronavirus के खिलाफ जारी जंग में अफवाहों को दौर भी थम नहीं रहा है। उत्तर प्रदेश के बिजनौर और अलीगढ़ में बीती रात यही हुआ। यहां आधी रात के बाद जिले में अफवाह फैल गई कि जो सो रहा है वह सोता ही रह जाएगा। इसके बाद गांव और शहरों में काफी लोग घरों से निकलकर सड़कों पर आ गए। एक दूसरे को फोन कर जागने की नसीहत देने लगे। कई घंटे के बाद लोग घरों के अंदर गए। कुछ ने टोटके भी किये। जानकारी मिलने के बाद आला अधिकारियों ने लोगों को किसी तरह की अफवाह से बचने की सलाह दी।

गावों में तरह -तरह की अफवाह, लोगों ने किए टोटके

इसी तरह अलीगढ़ में सोमवार तड़के से एक अफवाह तेजी से उड़ाई जा रही है कि कई गांवों में लोग कोरोना बीमारी के चलते सोते के सोते रह गए। रविवार रात एक बजे के बाद से कई गांवों में लोगों ने रात में ही थालियां बजाईं। रातभर सोए नहीं। तड़के चार बजे से ही लोग इसे लेकर चर्चाएं करते रहे।

लोगों का कहना है कि दिल्ली, डिबाई, इगलास, हाथरस में रहने वाले उनके रिश्तेदार के फोन आए हैं, जिन्होंने यह जानकारी दी है कि लोग सोते रह गए हैं। दहशत में आकर घरों के बाहर हल्दी के थापे लगाए जा रहे हैं। दरवाजे पर दीपक जला लिए हैं। तरह-तरह के टोटके किए जा रहे हैं।

पीलीभीत में अमरिया निवासी एक महिला कोरोना पॉजिटिव

इस बीच खबर है कि मक्का से लौटी पीलीभीत के अमरिया क्षेत्र निवासी महिला में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। रविवार देर रात लखनऊ से आई जांच रिपोर्ट में सैम्पल पॉजीटिव पाया गया। रात करीब 12.45 बजे अपर निदेशक स्वास्थ्य डॉ. राकेश दुबे ने बताया कि शनिवार को भेजी गई जांच रिपोर्ट देर रात मिली जोकि पॉजिटिव है। मंडल में यह पहला केस है। पीलीभीत को भी लॉक डाउन किया गया है।

Posted By: Arvind Dubey