मल्टीमीडिया डेस्क। आज-कल हर कोई ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं और चीजों को कम समय में हासिल करना चाहता है। एक अच्छी नौकरी मिलते ही कोई भी बैंक आपको क्रेडिट कार्ड दे देती है। इससे आप अपने पसंद की चीजें तुरंत खरीद सकते हैं और उनका पेमेंट बाद में या ईएमआई में चुका सकते हैं। मगर, इसके साथ ही क्रेडिट कार्ड होने पर आपको एक और सहूलियत मिल जाती है, लोन लेने की। आप क्रेडिट कार्ड से कभी भी लोन ले सकते हैं। जानते हैं इसके क्या हैं फायदे और किन बातों का रखना चाहिए ध्यान...।

यह हैं फायदे

क्रेडिट कार्ड पर लिया गया लोन आपको क्रेडिट कार्ड पर दी गई सीमा से अधिक होता है और यह आपके द्वारा बैंक की तरफ से दिए गए लोन की ही तरह होता है। यह आमतौर पर पूर्व स्वीकृत होता है और तुरंत ही राशि आपके खाते में पहुंच जाती है। इसके लिए आपको कोई कागजदात देने की जरूरत नहीं होती है।

क्रेडिट कार्ड से लोन लेने पर आपको किसी गारंटर या पोस्ट-डेटेड चेक देने की जरूरत नहीं होती है। मगर, इस तरह का लोन सभी को नहीं मिलता है। जिन लोगों का क्रेडिट स्कोर अच्छा होता है, सिर्फ उन्हें ही बैंक क्रेडिट कार्ड पर लोन देती हैं। यदि आप डिफाल्टर रहे हैं, तो हो सकता है कि आपको लोन देने से बैंक मना कर दे।

क्रेडिट कार्ड से एटीएम से नकद निकालने की सीमा आपके क्रेडिट कार्ड पर दिए जा रहे लोन के मुकाबले कम होती है। इसके अलावा यदि आप अपने कार्ड पर लोन लेने की बजाय एटीएम से नकदी निकालते हैं, तो आपको अधिक ब्याज चुकाना पड़ सकता है।

यह हैं नुकसान

पर्सनल लोन की तुलना में क्रेडिट कार्ड के अंगेस्ट लोन लेने पर आपको ज्यादा ब्याज चुकाना पड़ता है। यदि आप समय पर ईएमआई का भुगतान नहीं कर पाते हैं, तो आपको पैनाल्टी भी ज्यादा देनी पड़ सकती है।

क्रेडिट कार्ड से लोन लेने पर आपसे प्रोसेसिंग शुल्क के रूप में एक निश्चित राशि ली जाएगी। इसके अलावा यदि आप लोन के तय समय से पहले चुकाना चाहते हैं, तो आप पर प्री पेमेंट पैनाल्टी भी लगाई जा सकती है। इसलिए क्रेडिट कार्ड पर लोन लेने से पहले इन बातों के बारे में बैंक से जरूर पूछ लें।