नई दिल्ली/ कोलकाता। बंगाल में चक्रवात बुलबुल की दस्तक होने वाली है। ऐहतियात के तौर पर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने कोलकाता एयरपोर्ट पर विमानों की आवाजाही शनिवार शाम छह बजे से रविवार सुबह छह बजे तक के लिए रोक दी है। अथॉरिटी के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी ट्वीट किया कि चक्रवात बुलबुल बंगाल से गुजरने वाला है। प्रशासन की हालात पर चौबीस घंटे नजर है। विशेष कंट्रोल रूम बनाए गए हैं और एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें तैनात की गई हैं। उन्होंने बताया कि स्कूल, कॉलेज और आंगनवाड़ी केंद्रों को बंद कर दिया गया है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे भयभीत न हों, सतर्क रहें, सुरक्षित रहें।

बुलबुल के कारण भारी से भारी बारिश हो सकती है। हवा की गति 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी और समुद्र में ज्वार एक से दो मीटर उठ सकता है। बचाव कार्य के तहत आज पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्रों से 1.2 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला गया है। चक्रवात बुलबुल के चलते लैंड-स्‍लाइड की संभावना बढ़ गई है। रिपोर्टों के अनुसार आज स्थानीय मछुआरों की मदद से आठ मछुआरों को ODRAF द्वारा बचाया गया।

यह भी पढ़ें : Weather Update : तेज हवाओं के साथ नजदीक आ रहा है चक्रवात, यहां 15 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

ये आठ मछुआरे अपनी नाव के डूबने के बाद एक द्वीप पर फंसे हुए थे। बांग्‍लादेश के दक्षिण तटीय भागों में तूफान के प्रकोप की संभावना है। कई स्थानों पर 100 से 200 मिमी तक अत्यधिक वर्षा होने की संभावना है। चक्रवात बुलबुल अब खतरनाक स्थिति में पहुंच चुका है। पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश को अलर्ट पर रखा गया है क्‍योंकि अब कभी भी लैंड-स्‍लाइड हो सकती है।

यह भी पढ़ें : Weather Update : बेमौसम बारिश बन सकती है मुसीबत, इन राज्‍यों में बिगड़ेगा मौसम, पढ़ें डिटेल

जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर फिर भूस्खलन, हजारों फंसे

जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में शनिवार को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भूस्खलन के कारण यातायात ठप हो गया है। इस कारण हजारों लोग कई जगह फंस गए हैं। यह एक मात्र राष्ट्रीय राजमार्ग है जो कश्मीर को देश से जोड़कर रखता है। भारी बर्फबारी और कई जगहों पर भूस्खलन के कारण पिछले दो दिन से बंद था।

सुबह हालात में सुधार होने पर इसे खोल दिया गया था लेकिन यातायात विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दोपहर बाद दो बजे रामबन से दो किलोमीटर दूर महार के पास हाईवे पर बड़ी-बड़ी चट्टानें आ गिरीं। इस कारण हाईवे को बंद करना पड़ा। सड़क को साफ करने काम तत्काल शुरू कर दिया गया है लेकिन हजारों लोग जम्मू व श्रीनगर की तरफ फंसे हुए हैं।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना