Data Protection Bill: सरकार शुरुआती स्तर के स्टार्टअप्स को डिजिटल डाटा संरक्षण विधेयक के तहत नियमों से छूट देने पर विचार कर रही है। एक अधिकारी ने बताया कि स्टार्टअप को उनके बिजनेस मॉडल के विकास में सहायता के लिए यह राहत सीमित अवधि के लिए दी जा सकती है। यदि ऐसा होता है तो अनुपालन बोझ के कारण स्टार्टअप का नवाचार प्रवाहित नहीं होगा।

ड्राफ्ट में छूट का प्रस्ताव

अधिकारी ने बताया कि इलेक्ट्रानिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय विधेयक में सुधार पर विचार कर रहा है। जिससे शुरुआती स्तर के स्टार्टअप को डिजिटल डाटा संरक्षण विधेयक के प्रविधानों से राहत दी जा सके। उन्होंने कहा, 'यह छूट उन मामलों तक सीमित रह सकती है। जिनमें स्टार्टअप द्वारा अपने समाधान के लिए डाटा मॉडलिंग कर रहे हों।'

बजट सत्र में मसौदा रखने की तैयारी

बता दें पिछले सप्ताह सूचना प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा था कि सरकार प्रस्तावित कानून के तहत नागरिकों की गोपनीयता का उल्लंघन नहीं कर पाएगी। उसे नेशनल सुरक्षा, महामारी और प्राकृतिक आपदाओं में व्यक्तिगत डाटा तक पहुंच प्राप्त होगी। विधेयक 17 दिसंबर तक सार्वजनिक टिप्पणियों के लिए खुला है। सरकार बजट सत्र में संसद में इस मसौदे को रख सकती है।

यह भी पढ़ें-

भारत जोड़ो यात्रा के राजस्थान में प्रवेश से पहले सचिन पायलट ने जारी वीडियो, देखिए क्या है खास

शाही इमाम का विवादित बयान, मुस्लिम महिलाओं को टिकट देना इस्लाम के खिलाफ बगावत

दूसरे चरण की वोटिंग सोमवार को, स्मृति ईरानी बोलीं- हार के डर से गांधी खानदान प्रचार करने नहीं आया

Posted By: Kushagra Valuskar

  • Font Size
  • Close