Davinder Singh Arrest: जम्मू कश्मीर के डीएसपी देविंदर सिंह को पुलिस ने हिजबुल मुजाहिदीन के 2 आतंकियों के साथ गिरफ्तार किया था। अब पुलिस पूछताछ में Davinder singh ने बड़ा खुलासा किया है। उसने कबूला है कि वह जम्मू कश्मीर पुलिस के एक सीनियर अधिकारी के लिए काम करता था। उसने पुलिस को उस अधिकारी का नाम भी बताया है। पूछताछ के दौरान देविंदर टूट गया और उसने कहा कि उसने बहुत बड़ी गलती की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक देविंदर को इन आतंकियों को निकालने के लिए भी 10 लाख रुपए मिलने वाले थे।

सामने आई जानकारी के मुताबिक पुलिस सूत्रों ने बताया कि देविंदर सिंह ने एक सीनियर अधिकारी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह उसके लिए काम करता था। जांचकर्ताओं के मुताबिक देविंदर के बयान को लिंक करने की कोशिश की जाएगी। ऐसा भी हो सकता है कि वह जांच को गुमराह करने के लिए यह सब कह रहा हो।

यह भी सामने आया है कि देविंदर सिंह ने पिछले साल हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी नावीद बाबू को जम्मू में शिफ्ट किया था। नावीद ने इसके लिए उसे 8 लाख रुपए दिए थे और वह जम्मू में दो महीने तक रुका था। जब 11 जनवरी को पुलिस ने नावीद और एक अन्य आतंकी के साथ Davinder Singh को पकड़ा था तो उस वक्त उसने कहा था कि दोनों आतंकियों को वह सरेंडर कराने के लिए ले जा रहा था।

सूत्रों के मुताबिक NIA ने भी MHA से आरोपी देविंदर से एक या दो दिन की पूछताछ के लिए आदेश मांगा है। इस बीच JK डीजीपी दिलबाग सिंह ने उसे बर्खास्त करने की अनुशंसा कर दी है।

अफजल गुरु की पत्नी ने भी किया दावा

गिरफ्तार डीएसपी देविंदर सिंह को एक लाख रुपए देने का अफजल गुरु की पत्नी ने भी दावा किया है। उसने कहा साल 2000 में उसने देविंदर को पैसा देने के लिए अपने गहने तक बेच दिए थे।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020