श्रीनगर। कश्मीर के हालात में सुधार आते ही बुधवार को प्रशासन ने ज्यादातर क्षेत्रों से दिन की निषेधाज्ञा हटा ली है। अधिकांश दुकानें खुली रहीं और बाजारों में रौनक लौट आई। सड़कों पर वाहनों की आवाजाही भी बढ़ी है। श्रीनगर में तो कई जगह जाम के हालत पैदा हो गए। वहीं, शरारती तत्वों से निपटने के लिए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त रहे। गौरतलब है कि अनुच्छेद 370 हटाने के बाद कश्मीर में एहतियातन पाबंदियां लगाई गईं। हालात सामान् होता देख प्रशासन ने पाबंदियों को धीरे-धीरे हटाना शुरू कर दिया है। अलबत्ता, मोहर्रम पर जरूर तीन दिन तक संवेदनशील क्षेत्रों में पाबंदियां लगाई गई थीं।

बुधवार सुबह वादी के 111 में से करीब 96 पुलिस थाना क्षेत्रों से दिन की निषेधाज्ञा पूरी तरह हटा ली गई। कई इलाकों में रोजमर्रा के सामान से संबंधित दुकानें भी खुली रहीं। रेहड़ी-फड़ी वाले भी विभिन्न इलाकों में मौजूद रहे। वाहनों और लोगों की आवाजाही भी सड़कों पर खूब रही। अंतर जिला टैक्सी सेवा व तिपहिया वाहन दौड़ते नजर आए। श्रीनगर के कर्णनगर, बटमालू, लालचौक, डलगेट सेक्शन पर कई जगहों पर जाम की स्थिति रही।

सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की उपस्थिति सामान्य रही। सभी आवश्यक सेवाएं भी दिनभर बहाल रहीं। हालांकि शरारती तत्वों से निपटने के लिए लालचौक और डाउन-टाउन के अलावा अन्य संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा के कड़ा बंदोबस्त रहे। अर्धसैनिकबलों की तैनाती बढ़ाई गई थी। शहर के बाहरी हिस्सों में कुछेक जगहों पर शरारती तत्वों ने बहाल होती सामान्य जिंदगी में खलल डालने का प्रयास किया, लेकिन उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने नाकाम बना दिया। पुलिस नियंत्रण कक्ष में मौजूद एक अधिकारी ने बताया कि वादी में स्थिति पूरी तरह शांत और नियंत्रित रही है।