शत्रुघ्न शर्मा, अहमदाबाद। केंद्र सरकार की सेना में भर्ती के लिए अग्निवीर योजना का जहां कई प्रदेशों में विरोध हो रहा इसी बीच गुजरात का राष्ट्रीय रक्षा विवि एवं बिल्डर्स समूह [ क्रेडाई गुजरात ] अग्निवीरों के भविष्य को संवारने व उनको नौकरी दिलाने के लिए आगे आया है। सेना में रहते युवा रक्षा विवि से प्रमाण पत्र, डिप्लोमो व डिग्री कोर्स करके पुन: सैन्य सेवा, सुरक्षा एजेंसियों एवं तकनीकी क्षैत्र में अपना भविष्य बना सकेंगे।

राष्ट्रीय रक्षा विश्वविध्यालय [आरआरयू] के कुलपति प्रो बिमल पटेल ने खुलकर कहा है कि देश के युवा इसके फायदे देखेंगे तो उनकी सभी आशंकाएं समाप्त हो जाएंगी। रक्षा विवि अग्निवीरों के भविष्य को बेहतर बनाने व उन्हें आगे नौकरी उपलब्ध कराने के लिए रक्षा, सुरक्षा एवं तकनीकी क्षैत्र में सर्टिफिकेट, डिप्लोमा व डिग्री कोर्स कराएगा। जिससे वे अग्निवीर की सेवाएं पूर्ण होने के बाद सैन्य सेवाओं, सुरक्षा एजेंसियों एवं विविध तकनीकी सेवा क्षैत्र में जा सकेंगे।

प्रो पटेल बताते हैं कि रक्षा विश्वविध्यालय पहले से देश के कई राज्यों की पुलिस, सेना, नौसेना व अर्धसैनिक बलों व रक्षा संस्थाओं के साथ अनुबंध कर जवानों व इनके कर्मचारियों को प्रशिक्षित कर रहा है। यहां शिक्षा के लिए आने की भी जरुरत नहीं होती केवल ट्रैनिंग, ओरिएंटेशन व परीक्षा के लिए आना पडता है। सेना व कई अर्धसैनिक बलों के साथ दिल्ली पुलिस व गुजरात पुलिस में भी अग्निवीरों को प्राथमिकता दी जाएगी।

रक्षा विश्वविध्यालय के मीडिया संयोजक कुमार सव्यसाची बताते हैं कि अरुणाचल प्रदेश के पासीघाट एवं उत्तर प्रदेश के लखनऊ में रक्षा विवि के ट्रांजिट सेंटर होंगे जिससे उत्तर भारत व पूर्वी भारत के युवाओं को कोर्स करने में आसानी होगी। देश के अन्य राज्यों व रक्षा एजेंसियों के साथ भी मिलकर भी कई तरह के पाठ्यक्रम शुरु होंगे जिससे कैरियर के कई विकल्प होंगे।

बिल्डर लॉबी देगी 3 हजार को नौकरी

गुजरात के कॉन्फेडरेशन ऑफ रियल एस्टेट डवलपर्स एसोसिएशन [ क्रेडाई ] के अध्यक्ष अजय पटेल ने मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल एवं ग्रह राज्यमंत्री हर्ष संघवी से मुलाकात के बाद गुजरात के रियल एस्टेट क्षैत्र में हर साल 3 हजार अग्निवीरों को नौकरी देने का ऐलान किया है। क्रेडाई गुजरात यह मसौदा अन्य राज्यों के बिल्डर्स संघ को भी भेजेगा अगर इसे राष्ट्रीय स्तर पर लागू किया जा सकता तो इस क्षैत्र में सालाना 30 अग्निवीरों को नौकरी दी जा सकेगी।

Posted By: Navodit Saktawat

Assembly elections 2021
elections 2022
  • Font Size
  • Close