Delhi Excise Policy Scam । दिल्ली की नई आबकारी नीति और कथित शराब घोटाले में भ्रष्टाचार को लेकर प्रवर्तन निदेशालय और CBI लगातार देश में कई राज्यों में छापेमारी कर रही है। शुक्रवार को भी ईडी ने इस मामले में देशभर के अलग-अलग करीब 35 ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की है। गौरतलब है कि शराब घोटाले के मामले में दिल्ली के डिप्टी CM मनीष सिसोदिया के आवास और दफ्तरों पर भी CBI की छापेमारी हुई है। प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने आज दिल्ली, पंजाब और आंध्र प्रदेश में करीब 35 जगहों पर छापेमारी की है। ईडी ने शराब घोटाले के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था, इसके बाद शराब कारोबारी समीर महेंद्रू को भी गिरफ्तार कर लिया।

इसके अलावा ईडी ने आबकारी नीति में घोटाले के आरोपी विजय नायर को 20 अक्टूबर 2022 तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। उसकी न्यायिक हिरासत 6 अक्टूबर तक थी। नायर आम आदमी पार्टी (आप) के संचार प्रभारी हैं। उसे दिल्ली सरकार की आबकारी नीति से संबंधित अनियमितताओं में उनकी भूमिका के लिए गिरफ्तार किया गया था। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने गुरुवार को इवेंट कंपनी ओनली मच लाउडर (ओएसएल) के पूर्व CEO और आम आदमी पार्टी के वर्तमान संचार प्रभारी विजय नायर को दिल्ली आबकारी नीति की अनियमितताओं के सिलसिले में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जा चुका है।

उप राज्यपाल ने की थी जांच की सिफारिश

आपको बता दें कि दिल्ली की नई आबकारी नीति सवालों के घेरे में है। ऐसे में उप राज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने मामले की CBI जांच की सिफारिश की थी। उनकी सिफारिश के बाद केंद्रीय जांच एजेंसी ने बड़े पैमाने पर छापामार कार्रवाई शुरू की है। वहीं शराब घोटाला केस को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी में ठन गई है। आप का कहना है कि भाजपा पार्टी की लोकप्रियता से बौखला गई है, इसीलिए छापेमारी की जा रही है। वहीं दूसरी ओर भाजपा नेताओं ने मनीष सिसोदिया को डिप्टी सीएम के पद से हटाने की मांग की है

Posted By: Sandeep Chourey

Assembly elections 2021
elections 2022
  • Font Size
  • Close