Air India Urination Case: डीजीसीए ने एयर इंडिया के खिलाफ फिर कार्रवाई की है। इस बार यात्री की बदसलूकी की एक घटना को रिपोर्ट ना करने की वजह से दस लाख का जुर्माना लगाया गया है। ये मामला 6 दिसंबर 2022 का है, जब एयर इंडिया की AI 142 पेरिस-दिल्ली फ्लाइट में एक पुरुष यात्री ने वॉशरूम में सिगरेट पी और इसके बाद एक महिला पैसेंजर के कंबल पर पेशाब कर दिया। डीजीसी ने बताया कि एयर इंडिया ने इस मामले की जानकारी होने पर भी उन्हें जानकारी नहीं दी। आपको बता दें कि एयर इंडिया पर पिछले एक महीने में दूसरी बार बड़ा जुर्माना लगा है। दोनों ही मामले नशे की हालत में यात्रियों के पेशाब करने से जुड़े हैं।

इस वजह से लगा जुर्माना

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने कहा कि टाटा द्वारा संचालित एयरलाइन ने 6 दिसंबर की घटना को अपनी आंतरिक समिति को भेजने में देरी की। डीजीसीए को भी 6 दिसंबर की घटना के बारे में तब बताया गया, जब उसने एयर इंडिया से ब्योरा मांगा। डीजीसीए ने एक बयान में कहा था, 'एयर इंडिया ने तब तक घटना की रिपोर्ट नहीं की जब तक कि डीजीसीए नेउनसे 05.01.2023 को घटना की रिपोर्ट नहीं मांगी।'

पहले भी लगा था जुर्माना

पिछले साल 26 नवंबर को उड़ान के दौरान कई नियमों का उल्लंघन करने के संबंध में डीजीसीए ने एयर इंडिया पर 30 लाख रुपये और एयर इंडिया की उड़ान के दौरान सेवाओं के निदेशक पर तीन लाख रुपये का जुर्माना लगाया था। साथ ही प्रभारी पायलट का लाइसेंस तीन महीने के लिए निलंबित कर दिया था।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close