भारत दौरे पर आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति Donald Trump आगरा भी जाएंगे और ताज महल का दीदार करेंगे। इस दौरान उनके साथ पत्नी मिलेनिया भी रहेंगी। पहले खबर थी कि खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्रम्प दंपति को ताज महल दिखाएंगे, लेकिन अब विदेश मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि पीएम मोदी या भारत का कोई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद नहीं रहेगा। Donald Trump 24 फरवरी को भारत आएंगे। उनके दौरे की शुरुआत अहमदाबाद से होगी। इसके बाद वे आगरा जाएंगे और फिर 25 फरवरी को दिल्ली में औपचारिक कार्यक्रम होंगे। दिल्ली में मिलेनिया ट्रम्प एक सरकारी स्कूल का दौरा भी करेंगी। आगरा में तैयारियां जोरशोर से चल रही हैं। ताजमहल वाले रूट पर पड़ने वाले पेट्रोल पम्पों को उस दौरान बंद रखा जाएगा।

पहली बार अमेरिकी राष्ट्रपति से नहीं मिलेगा कोई विपक्षी प्रतिनिधिमंडल

पहली बार ऐसा होगा कि किसी अमेरिकी राष्ट्रपति से विपक्ष का कोई प्रतिनिधिमंडल नहीं मिलेगा। कांग्रेस के नेताओं की Donald Trump के साथ कोई मुलाकात अब तक तय नहीं है। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा जब भारत दौरे पर आए थे, तब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी ने उनसे मुलाकात की थी।

जानकारी के अनुसार, डोनाल्ड ट्रम्प 36 घंटे भारत में रहेंगे और इस दौरान विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष या पार्टी के किसी बड़े नेता के साथ उनकी मुलाकात की चर्चा नहीं है। हालांकि ट्रम्प के सम्मान में राष्ट्रपति की तरफ से आयोजित भोज में राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद शामिल हो सकते हैं।

इस मुद्दे पर कांग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा का कहना है कि हमें अब तक न तो सरकार की तरफ से और न ही अमेरिका की तरफ से कोई निमंत्रण मिला है। अगर निमंत्रण मिलता तो विचार किया जाएगा। दौरे पर आने वाले प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति को जब कांग्र्रेस नेताओं से मिलना होता है तो वो इसके लिए सीधे प्रस्ताव करते हैं। लेकिन अभी तक ट्रंप की तरफ से ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं मिला है। वहीं कांग्रेस ने यह आशंका भी जताई है कि ट्रम्प का यह दौरा अमेरिकी चुनावों में उनके लिए चुनाव प्रचार की तरह हो सकता है। कांग्रेस कह रही है कि मोदी सरकार को ऐसा नहीं होने देना चाहिए।

Posted By: Arvind Dubey