तिरूवनंथपुरम। सड़क हादसे में घायल मरीज के साथ एंबुलेंस स्टाफ के बुरे बर्ताव की वजह से उसकी मौत हो गई। मरीज की मौत उस वक्त हुई, जब उसे एंबुलेंस से केरल के थ्रिसूर मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट किया जा रहा था।

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो बीमार मरीज ने एंबुलेंस में ही पेशाब कर दिया था। इससे गुस्साए ड्राइवर ने उसे उलटा लेटा दिया था। मौके पर मौजूद एक शख्स ने इस घटना का वीडियो बना लिया, जो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

पुलिस के मुताबिक, इस शख्स को एक टू व्हीलर ने बीस मार्च को उस वक्त टक्कर मार दी थी, जब वो पलक्कड़ जिले से गुजरने वाले नेशनल हाईवे को पार करने की कोशिश कर रहा था।शुरुआत में उसे पलक्कड़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां स्थिति गंभीर होने पर उसे एंबुलेंस के जरिए थ्रिसूर मेडिकल कॉलेज ले जाया जा रहा था। मेडिकल कॉलेज पहुंचते ही स्टाफ ने उसे एंबुलेंस से नीचे उतारने की तैयारी शुरू की। उसी दौरान ड्राइवर ने उसे स्ट्रेचर पर इस तरह लेटा दिया कि उसका धड़ एंबुलेंस में तो वहीं सिर नीचे जमीन की तरफ लटक गया।

मेडिकल कॉलेज के स्टाफ की मदद से उसे व्हीलचेयर पर बैठाकर अस्पताल ले जाया गया। जहां ऑपरेशन बाद के उसकी मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने एंबुलेंस ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Posted By: