दक्षिणी अंडमान और बंगाल की खाड़ी में बन रहे चक्रवाती तूफान जवाद (Cyclone Jawad) ने चिंता बढ़ा दी है। भारतीय मौसम विभाग ने पूरे देश में अलर्ट जारी किया। आईएमडी के अनुसार बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम दबाव का क्षेत्र शुक्रवार को चक्रवात में तब्दील हो सकता है। चार दिसंबर तक इसके ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटों से टकराने की आशंका है।

रेलवे ने रद्द की 95 ट्रेनें

चक्रवाती तूफान जवाद के खतरे को देखते हुए ईस्ट कोस्ट रेलवे (East Coast Railway) बड़ा फैसला लिया है। रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए 3 और 4 दिसंबर को 95 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। ईसीओआर ने कहा कि विभिन्न स्थानों से चलने वाली 95 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों को 3-4 दिसंबर से रद्द कर दिया गया है।

ये राज्य होंगे चक्रवात से ज्यादा प्रभावित

आईएमडी के डीजी मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि अंडमान सागर में बना कम दबाव का क्षेत्र गुरुवार सुबह वेल मार्क लो प्रेसर में तब्दील हो गया है। अगले 12 घंटे मे यह दबाव क्षेत्र का रूप लेगा। यह उत्तर-पश्चिम दिशा में तेज गति से चार दिसंबर को उत्तर-आंध्र और दक्षिण-ओडिशा के पास समुद्र में सक्रिय होगा। इसके बाद यह अपनी दिशा बदलेगा। उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल इस चक्रवात से ज्यादा प्रभावित होंगे।

50 से 90 किमी प्रति घंटा से चलेगी हवा

मौसम विभाग के अनुसार तीन दिसंबर को मध्यरात्रि के बाद हवा की गति बढ़ने की उम्मीद है। शुरुआत में हवा की रफ्तार 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा रहने की संभावना है। इसके बाद चार दिसंबर दोपहर बाद हवा की रफ्तार 70 से 90 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है। शुक्रवार से ही प्रभावित क्षेत्रों में बरसात हो सकती है।

Posted By: Shailendra Kumar