EMI, Personal Loan, Home Loan लेने वालों के लिए काम की खबर है। सरकार ने साफ कहा है कि ब्‍याज पर ब्‍याज माफ करना बैंकों का ही दायित्‍व है। इसके लिए ग्राहक बैंक को याद दिलाएं, इसकी जरूरत नहीं होनी चाहिए। सरकार ने कहा कि यह ऐसा मामला नहीं है जिसमें सरकार ने कुछ भी न किया हो। कोरोना काल में बैंकों ने ग्राहकों को जो राहत दी थी, अब उस पर सरकार ने अपना रूख स्‍पष्‍ट कर दिया है। यह बात तब सामने आई है जब ब्‍याज पर ब्‍याज माफ करने को लेकर मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है। सुप्रीम कोर्ट में लोन मोरेटोरियम मामले में याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान वित्त मंत्रालय यह बात कही। मंत्रालय ने यह भी कहा कि लोन मोरेटोरियम वित्तीय नीति का मामला है और सरकार ने कोरोना महामारी को देखते हुए कई जरूरी उपाय किए हैं। सुप्रीम कोर्ट में कुछ याचिकाएं दाखिल हुईं थी, जिनमें कोरोना महामारी के दौरान लोन मोरेटोरियम का लाभ लेने वाले ग्राहकों से इस अवधि में ब्याज पर ब्याज वसूले जाने का विरोध किया गया था। कोर्ट ने सरकार से इस संबंध में कुछ करने को कहा था, जिसके बाद सरकार ने दो करोड़ तक के कर्ज पर ब्याज पर ब्याज माफ करने की योजना का एलान किया था। मूल याचिकाकर्ताओं ने सरकार की योजना पर संतोष जताया है। बिजली उत्पादक कंपनियों ने भी कोर्ट से राहत की गुहार लगाई। कोर्ट ने बिजली उत्पादक कंपनियों से कहा कि वे जो राहत मांग रहीं हैं, उस संबंध में अपने सुझाव रिजर्व बैंक को दें। कोर्ट ने केंद्रीय बैंक से कहा है कि वह बिजली उत्पादक कंपनियों की ओर से लोन मोरेटोरियम योजना में मांगी जा रही राहतों का जवाब देते हुए अपने सुझाव दाखिल करे। कोर्ट मामले पर अगले सप्ताह फिर सुनवाई करेगा।

सरकार की ओर से दी गई राहतों का हवाला देते हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि इस मामले में कोर्ट को अब कोई और आदेश नहीं देना चाहिए, भले ही याचिकाकर्ता यह दलील क्यों न दें कि इससे बेहतर हो सकता था। मेहता ने दो करोड़ तक के कर्ज पर ब्याज पर ब्याज माफ करने की योजना बताते हुए कहा कि इसे लागू करने की जिम्मेदारी बैंकों की है। मामले की सुनवाई कर रही पीठ ने छोटे कर्जदारों के हितों के लिए सरकार द्वारा ब्याज पर ब्याज माफ करने की योजना की सराहना की और मुख्य याचिका निपटाने की बात कही।

पर्सनल लोन ईएमओ कैलकुलेटर के साथ ऐसे आसानी से चुकाएं किश्‍तें

पिछले कुछ वर्षों में वित्त की दुनिया में बदलाव आया है। यदि आपको धन की आवश्यकता है, तो आपको ऋण के लिए अपने ऋणदाता कार्यालय का दौरा करने की उम्मीद नहीं है। कागजी कार्रवाई को ऑनलाइन पूरा किया जा सकता है, और अधिकांश उधारदाताओं के मामले में पूरी प्रक्रिया सरल है। आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि आज आपके मासिक आउटगो के साथ-साथ आपके व्यक्तिगत ऋण की अवधि क्या होगी। और आपको यह जानने की आवश्यकता है कि हर महीने आपको किस ऋण की किस्त की संभावना है। अपने व्यक्तिगत ऋण ईएमआई का अनुमान लगाने में आपकी सहायता करने के लिए और बजाज फिनसर्व जैसे ऋणदाता व्यक्तिगत ऋण के लिए ईएमआई कैलकुलेटर जैसे ऑनलाइन उपकरण प्रदान करते हैं। यह एक आसान कैलकुलेटर है जो आपके मासिक ऋण की किश्त की गणना करने के लिए विभिन्न ऋण राशियों, पुनर्भुगतान के कार्यकाल और ब्याज दरों का उपयोग करता है। यहां तीन सरल तरीके दिए गए हैं जो व्यक्तिगत ऋण ईएमआई कैलकुलेटर आपके ऋण का प्रबंधन करने में आपकी सहायता कर सकते हैं।

पर्सनल लोन लेते समय रखें यह ध्‍यान

यदि आप व्यक्तिगत ऋण लेने की योजना बना रहे हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप आवेदन करने से पहले व्यक्तिगत ऋण EMI कैलकुलेटर का उपयोग करें। चुकौती राशि की योजना बनाने में मूल्य बहुत अधिक है और आप अपनी वित्तीय आवश्यकता के लिए सर्वोत्तम संभव परिदृश्य पर आने के लिए ऋण शर्तों और ऋणदाताओं की तुलना भी कर सकते हैं। यदि आप अपने कुल ब्याज को कम से कम करना चाहते हैं, तो आप अपना कार्यकाल कम कर सकते हैं (और अपनी ईएमआई बढ़ा सकते हैं)। जब तक आप ईएमआई को आराम से प्रबंधित कर सकते हैं, तब तक आप अच्छे हैं।

1. ऋण की लागत का स्पष्ट अनुमान लगाएं

व्यक्तिगत ऋण प्राप्त करने की वास्तविक लागत उस ब्याज दर पर आधारित होती है जिसका आपको भुगतान करने की उम्मीद होती है। और आपका ऑनलाइन ईएमआई कैलकुलेटर आपको बस समझने में मदद करता है। जब आप ब्याज दर और ऋण अवधि में प्रवेश करते हैं, तो आपको यह देखने को मिलता है कि आपकी ईएमआई आपके ऋण के ब्याज घटक के साथ-साथ आपके पुनर्भुगतान कार्यकाल के अंत तक कुल भुगतान के रूप में होगी। बजाज फिनसर्व द्वारा ऑनलाइन ईएमआई कैलकुलेटर आपको यह समझाने के लिए एक आसान समझने वाला पाई चार्ट दिखाता है।

2. ब्याज दर, और कार्यकाल का विवरण दर्ज करें

एक बार जब आप अपनी अपेक्षित ऋण राशि, ब्याज दर, और कार्यकाल का विवरण दर्ज करते हैं, तो एक अच्छा व्यक्तिगत ऋण ईएमआई कैलकुलेटर आपको अपने ईएमआई के ब्रेकअप के साथ-साथ आपके ऋण चुकौती अवधि की चुकौती अनुसूची भी दिखाना चाहिए। इससे आपको आने वाले महीनों में अपने ऋण चुकौती का प्रबंधन करने में मदद मिलेगी और आपको अपने वित्त का प्रबंधन करने की आवश्यकता होगी।

3. उपयुक्त ऋण राशि का भुगतान करें

ऋण के लिए आवेदन करने से पहले एक ऑनलाइन ईएमआई कैलकुलेटर का उपयोग करने का सबसे अच्छा हिस्सा यह है कि आप आसानी से ऋण मूलधन और कार्यकाल को सही ईएमआई पर पहुंच सकते हैं जो आपके लिए काम करता है। बड़ी ऋण राशियों का अर्थ है उच्च ईएमआई और ब्याज भुगतान और इसके विपरीत।

Home Loan लेने वालों के लिए अच्‍छी खबर, बैंकों के पास बढ़े लोन के आवेदन, जानिये वजह

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस