नया वित्त वर्ष Financial Year शुरू होने के साथ ही कई नए नियम लागू हो चुके हैं। इन्हीं में से एक है EPFO से जुड़ा नियम। इस नियम के कारण 1 अप्रैल से लाखों रिटायर्ड कर्मचारियों को EPS Pension का पूरा फायदा मिलने वाला है। केंद्रीय श्रम मंत्रालय के एक फैसले के बाद 1 अप्रैल 2020 से देश के ऐसे 6.3 लाख कर्मचारियों को बढ़ी हुई पेंशन मिलने लगेगी जो Pension Commutation स्कीम को अपना चुके हैं। श्रम मंत्रालय ने कर्मचारी पेंशन स्कीम Employee Pension Scheme के तहत पेंशन कम्युटेशन Pension Commutation को बहाल करने के EPFO के फैसले को लागू कर दिया है।

पेंशन कम्युटेशन स्कीम के तहत EPFO Subscriber आंशिक रूप से पेंशन फंड की निकासी पहले ही कर लेते हैं। उसके बाद उन्हें 15 साल तक घटी हुई पेंशन राशि मिलती थी। हालांकि, मंत्रालय के इस निर्णय के बाद इस तरह के पेंशनर्स को 15 साल पूरा होने के बाद पूरी पेंशन मिलेगी।

जारी हो चुकी है अधिसूचना

केंद्र सरकार के श्रम मंत्रालय ने इसे लेकर एक अधिसूचना पहले ही जारी कर दी है जिसमें कहा गया है कि जिन्होंने 25 सिंतबर, 2008 तक या उससे पहले पेंशन कम्युटेशन का विकल्प चुना था उन्हें इसका फायदा मिलेगा। इस संदर्भ में EPFO द्वारा संचालित इम्पलॉइज पेंशन स्कीम (EPS) के प्रावधानों में संशोधन किया गया है। इस फैसले से 6.3 लाख पेंशनर्स को फायदा होगा, जिन्होंने 25 सितंबर 2008 या उससे पहले रिटायरमेंट के समय ही अपने पेंशन फंड से एकमुश्त राशि निकाल ली थी।

दरअसल, EPFO ने पेंशन कम्युटेशन से जुड़े प्रावधान 2009 में वापस ले लिए थे लेकिन अब इस सुविधा को ऐसे पेंशनर्स के लिए लागू कर दिया गया है, जिन्होंने 25 सितंबर, 2008 से पहले इस विकल्प को चुना था।

वर्तमान में कर्मचारी को रिटायर होने पर पेंशन की 40 प्रतिशत रकम एडवांस में दे दी जाती है जबकि इसके बाद हर महीने मिलने वाली पेंशन से 8000 रुपए काट लिए जाते हैं। ऐसा अंत तक किया जाता है। लेकिन कम्युटेशन स्कीम के तहत 15 साल के मासिक पेंशन का एक तिहाई हिस्सा रिटायरमेंट के समय एकमुश्त दिया जाता है। 15 साल पूरे होने के बाद पेंशनर्स को पूरी पेंशन मिलती है। अगस्त 2019 में EPFO के लिए निर्णय लेने वाली शीर्ष संस्था Central Board of Trustees ने 6.3 लाख पेंशनर्स के लिए कम्युटेशन स्कीम को बहाल करने का फैसला किया था।

PFO से जुड़ी एक समिति ने पेंशन कम्युटेशन से जुड़े नियमों में बदलाव के लिए EPS-95 (Employees' Pension Scheme 1995) में संशोधन की सिफारिश की थी।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस