EPFO: नौकरी बदलने वाले कर्मचारियों के कई बार अलग-अलग PF अकाउंट हो जाते हैं। EPFO नियमों की यदि आपको जानकारी नहीं हो तो इसकी वजह से बड़ा नुकसान उठाना पड़ता है। नौकरी बदलने पर पुराना PF अकाउंट इनऑपरेटिव हो जाता है। इस समस्या के समाधान के लिए EPFO ने अब कर्मचारी को एक ही PF अकाउंट जारी रखने का विकल्प दे दिया है। अब कर्मचारी नई कंपनी ज्वॉइन करने पर पुराने PF नंबर को ही जारी रख सकता है। इस व्यवस्था से यह फायदा है कि कोई PF अकाउंट अप इनऑपरेटिव नहीं होगा।

इनऑपरेटिव PF अकाउंट:

यदि 36 महीनों तक किसी PF खाते में कोई ट्रांजेक्शन नहीं हुआ है, अर्थात कर्मचारी या नियोक्ता की तरफ से कोई योगदान जमा नहीं किया गया है तो वह खाता इनऑपरेटिव हो जाता है। 1 अप्रैल 2011 के बाद से सरकार ने ऐसे बंद (इनऑपरेटिव) खातों पर ब्याज देना बंद कर दिया था लेकिन साल 2016 में इन बंद खातों पर भी ब्याज देना शुरू कर दिया। इनऑपरेटिव खातों पर यदि सात साल तक कोई क्लेम नहीं किया गया तो इसे सीनियर सिटिजंस वेलफेयर फंड में डाल देती है।

अपना पुराना अकाउंट ट्रेस करने की प्रक्रिया: कर्मचारी भविष्य निधि की वेबसाइट www.epfindia.gov.in पर इनऑपरेटिव अकाउंट हेल्प डेस्क ऑप्शन पर जाए। इसके शिकायत बॉक्स में अपनी समस्या के बारे में पूरी जानकारी देना होगी। इसके बाद आपसे निजी जानकारी मांगी जाएंगी। आपको नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, जन्मदिन, पति या पिता का नाम, नियोक्ता का नाम इत्यादि भरना होगा। इन डिटेल्स की मदद से आपका अकाउंट ट्रेस कर लिया जाएगा। अकाउंट ट्रेस होने के बाद फंड को निकाला या ट्रांसफर किया जा सकता है।

पैसा ट्रांसफर करने के लिए यह प्रक्रिया अपनानी होगी:

UAN नंबर और पासवर्ड से अपना EPF अकाउंट लॉगइन करें और Online Servies में जाएं। इसके बाद ड्रॉप डाउन में One Member-One EPF Account Transfer Request ऑप्शन को सिलेक्ट कर UAN नंबर डाले या अपनी पुरानी EPF मेंबर आईडी डालें। ऐसा करते ही आपकी अकाउंट डिटेल्स आ जाएंगे। यह ट्रांसफर वेलिडेट करने के लिए अपनी पुरानी या नई कंपनी को सिलेक्ट करें। पुराने अकाउंट को सिलेक्ट करें, अब ओटीपी (OTP) जनरेट हो जाएगा।

OTP एंटर करने के बाद आपकी कंपनी को ऑनलाइन मनी ट्रांसफर प्रोसेस का रिक्वेस्ट चला जाएगा। इसके बाद अगले कुछ दिनों में यह प्रोसेस पूरा हो जाएगा और पुरानी कंपनी पैसे को ट्रांसफर कर देगी जिसे EPFO का फील्ड ऑफिसर वेरिफाई करेगा। EPFO ऑफिसर के वेरिफिकेशन के बाद यह पैसा आपके नए खाते में ट्रांसफर हो जाएगा। आपकी रिक्वेस्ट पूरी हुई है या नहीं, इसे आप Track Claim Status में देख सकते हैं।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना