EPFO News: प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारियों का EPFO खाता होता है। इस खाते में कर्मचारी की सैलरी का कुछ हिस्सा और कंपनी की तरफ से उतनी ही रकम हर महीने जमा की जाती है। 60 साल के बाद इन कर्मचारियों को यह पैसा दिया जाता है। कई बार कर्मचारियों को 60 साल से पहले ही पैसे की जरूरत पड़ जाती है। ऐसे में कई कर्मचारी समय से पहले पैसा निकाल लेते हैं। कई बार ऐसा करने से पहले ईपीएफओ में दर्ज बैंक अकाउंट नंबर बदलना पड़ता है। पहले के समय में EPFO में दर्ज अकाउंट नंबर बदलवाने के लिए ऑफिस के कई चक्कर काटने पड़ते थे। लेकिन आज के समय में आप घर बैठे EPFO में अपना खाता नंबर बदलवा सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ स्टेप्स फॉलो करने होंगे। ईपीएफ में 6 लाख तक का फ्री इन्श्योरेंस मिलता है। इसके साथ ही इन पैसों पर कोई टैक्स भी नहीं लगता है। ईपीएफ का पैसा आपके भविष्य के लिए सुरक्षित रहता है।

घर बैठे ईपीएफ में कैसे अपडेट करें बैंक खाता

ईपीएफओ के पोर्टल https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ पर जाकर मैनेज का विकल्प चुनें। अब मैनेज मेन्यू में केवायसी का लिंक क्लिक करें। बैंक अकाउंट में बदलाव के लिए चेकबॉक्स पर क्लिक करें। अब आपको अकाउंट में जो बदलाव करना करना है कर सकते हैं। अब सेव चेंज पर क्लिक करें। आपकी नई जानकारी अप्रूव होने के बाद अपडेटेड बैंक डिटेल्स अप्रूव्ड केवाईसी सेक्शन में दिखाई देगी।

गौरतलब है कि सरकारी या निजी कर्मचारी जिनका वेतह 15 हजार प्रतिमाह से उपर है उन्हे ईपीएफ के लिए योगदान देना अनिवार्य है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags