कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (Employee Provident Fund) ने कर्मचारियों को दिए एक सुविधा में बदलाव किया है। पहले खाताधारक के पास ऑप्शन था कि अगर उनके पीएफ अकाउंट (PF Account) में कोई गलती है। उसे ऑनलाइन ही सुधार कर सकते हैं। इसके लिए ईपीएफओ (EPFO) ऑफिस में जाकर चक्कर लगाने और लंबी लाइन में लगने की जरूरत नहीं पड़ती थी। पीएफ (PF) अकाउंट होल्डर अपना नाम, पिता का नाम और जन्म तिथि जैसी जानकारियों में बदलाव या सुधार कर सकते थे।

अब ईपीएफओ ने लाखों कर्मचारियों को झटका दिया है। संगठन ने पूरी प्रक्रिया में बदलाव कर दिया है। इसके लिए नई गाइडलाइंस भी जारी कर दी है। नए नियमों को लाने का कारण कर्मचारी भविष्य निधि संगठन का पीएफ खातों को ठगी से बचाना है। ईपीएफ के अनुसार नाम, पिता का नाम, पति-पत्नी का नाम, जन्म तारीख और लिंग में त्रुटियों को सुधारा जा सकता था। नई गाइडलाइंस के बाद सब्सक्राइबर की दिक्कते बढ़ गई। अब खाताधारक सिर्फ कुछ चुनिंदा ही बदवाल कर पाएंगे।

बता दें कुछ केस सामने आए हैं, जिसमें नाम और प्रोफाइल में बदलाव कर फर्जी रकम निकाली गई है। सामान्य तौर पर पूरी प्रोफाइल बदलने की अनुमति नहीं होती। नए बदलाव के तहत अब लोग अपना नाम नहीं बदल सकेंगे। कई बार कर्मचारी अपने नाम की स्पेलिंग गलत भर देते है, जिस कारण निकासी में परेशानी होती है। अब इन दिक्कतों को ऑनलाइन सुधारा नहीं जा सकेगा।

इसके लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स लेकर ईपीएफओ कार्यालय जाना होगा। साथ ही अब डेथ ऑफ बर्थ, पिता-पति का नाम, नॉमिनी का नाम और नियोक्ता का नाम भी नहीं बदला जा सकता। इसके लिए भी दस्तावेजों के साथ ईपीएफओ दफ्तर में उपस्थिति होना पड़ेगा। बता दें सरनेम में बदलाव अब भी किया जा सकेगा। शादी के बाद महिलाओं का सरनेम बदल जाता है। इसके लिए औरतों को पहले अपने आधार कार्ड में नाम बदलवाना होगा।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags