Uttar Pradesh के Farrukhabad (फर्रुखाबाद) में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक नवजात आंखें भी नहीं खोल पाया था कि नर्सिंग होम के ऑपरेशन थिएटर में घुसे कुत्ते ने उसको नोच-नोच कर मार डाला। गलती मानने की बजाय नर्सिंग होम स्टाफ उलटे बच्चे के घर वालों पर आरोप लगाने लगा। मामला गरमाने पर कर्मचारी भाग निकले। Farrukhabad पुलिस ने सोमवार शाम को डॉक्टर डॉ. मोहित गुप्ता और स्टाफ के खिलाफ केस दर्ज किया लिया। नर्सिंग होम संचालक विजय पटेल का कहना है कि शिशु मृत पैदा हुआ था, जिसके बाद उसे घर वालों को सौंप दिया गया था। उनकी लापरवाही से घटना हुई है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, Farrukhabad के फतेहगढ़ निवासी रवि सिह ने पत्नी कंचन को प्रसव के लिए लोहिया अस्पताल के सामने स्थित आकाशगंगा हॉस्पिटल में सोमवार सुबह भर्ती कराया गया था। यहां डॉ. मोहित गुप्ता ने कंचन का ऑपरेशन कर प्रसव कराया। कंचन ने बेटे को जन्म दिया। दोपहर में एक कुत्ता ऑपरेशन थिएटर में घुसा और नवजात को उठा ले गया। जब तक लोग उसे देखते, कुत्ते ने उसकी आंख और चेहरा नोच डाला। बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई।

जानकारी मिलते ही घर वालों ने हंगामा शुरू किया तो नर्सिंगहोम कर्मचारी दादागीरी पर उतर आए। हंगामा बढ़ा और लोग जमा हुए तो डॉक्टर और कर्मचारी वहां से भाग गए। मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी वेदप्रकाश पांडेय ने कार्रवाई का भरोसा दिलाकर मामला शांत कराया। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखे और रिकॉर्डिंग कब्जे में ली। देर शाम को डिप्टी सीएमओ डॉ. राजीव शाक्य ने नर्सिंगहोम के अभिलेख कब्जे में लेकर प्रसूता कंचन को लोहिया अस्पताल भेजा। डिप्टी सीएमओ ने बताया कि नर्सिंगहोम के पंजीकरण संबंधित कोई अभिलेख नहीं मिले हैं, जांच की जा रही है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना