FASTag Alert: वाहनों पर फास्टैग नहीं लगाने को लेकर अब कोई बहाना नहीं चलेगा। सरकार FASTag से जुड़ी नई व्यवस्था पर काम कर रही है, जिसमें किसी भी वाहन के पंजीकरण या उसके फिटनेस सर्टिफिकेट जारी होने से पहले उस वाहन की FASTag जानकारी दर्ज की जाएगी। रविवार को इस बारे में जानकारी दी गई। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय का साफ कहना है कि इसके बाद अब राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों में FASTag नहीं लगा होने का कोई बहाना नहीं चलेगा। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने वाहन पोर्टल और नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (एनईटीसी) के एकीकरण का काम पूरा कर लिया है।

साथ ही इस बारे में एनआईसी तथा सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को सूचना दे दी गई है। अब वाहन सिस्टम को FASTag के माध्यम से व्हीकल आइडेंटिफिकेशन नंबर (वीआईएन) या व्हीकल रजिस्ट्रेशन नंबर (वीआरएन) की पूरी जानकारी मिल रही है।

मंत्रालय ने एनआईसी को लिखे एक पत्र में कहा है कि वाहन (वीएएचएएन) पोर्टल के साथ राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह (एनईटीसी) को पूरी तरह जोड़ दिया गया है और यह 14 मई को एपीआई के साथ लाइव हुआ है। वाहन पोर्टल अब वीआईएन/ वीआरएन के माध्यम से फास्टैग पर सभी जानकारी हासिल कर रही है। इस पत्र की कॉपी सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को भेजी गई है।

एम और एन श्रेणी के वाहनों की बिक्री के समय नए वाहनों में फास्टैग लगाना 2017 में ही अनिवार्य कर दिया गया था। लेकिन बैंक खाते के साथ जोड़ने या उन्हें सक्रिय किए जाने से नागरिक बच रहे थे, जिसकी अब जांच की जाएगी।

How to Know FASTag Balance

FASTag के लिए यह जरूरी हो गया है कि जैसे ही FASTag बैलेंस खत्म हो, इसे रिचार्ज कर लिया जाए। इसके लिए यह जानना जरूरी है कि FASTag Balance कितना शेष है। इंडियन हाईवेज मैनेजमेंट कंपनी (आईएचएमसीएल) ने इसके लिए मिस कॉस सुविधा दी है। यही कंपनी FASTag बैलेंस (प्रीपेड) का हिसाब-किताब रखती है। कंपनी की ओर से जारी +91-8884333331 नंबर पर अपने रजिस्‍टर्ड मोबाइल से मिस कॉल देकर ग्राहक FASTag बैलेंस का पता लगाया जा सकता है। यह सुविधा 24X7 उपलब्ध है और खास बात यह भी कि इसके लिए इंटरनेट की कोई जरूरत नहीं।

अधिकांश मामलों में बैलेंस नहीं होने पर FASTag काम नहीं करता है। दरअसल, चालक एक टोल से दूसरे टोल गुजरता रहता है, लेकिन बैलेंस चेक नहीं करता है। जब बैलेंस निर्धारित सीमा से कम हो जात है तो राशि अपने आप नहीं कटती है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan