नई दिल्ली। FIR on embassy official: एक एनजीओ में काम करने वाली महिला ने एक दूतावास के वरिष्ठ अधिकारी पर छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया है। ये एनजीओ इस दूतावास के साथ जुड़ा हुआ है। अपनी शिकायत में महिला ने आरोप लगाया कि आरोपी वरिष्ठ अधिकारी ने अपने ऑफिस में उसे गलत तरीके से छुआ और उसके साथ गलत हरकत करने की कोशिश की।

मिली जानकारी के मुताबिक इस हरकत के बाद महिला ने अपने देश की पुलिस से संपर्क किया। यहां से उसे बताया गया कि वो इस पूरे मामले की दिल्ली पुलिस से शिकायत करें। इस पर महिला ने दिल्ली पुलिस को मेल कर अपनी शिकायत दर्ज कराई। इस शिकायत के आधार पर पुलिस ने अधिकारी पर 9 फरवरी को एफआईआर दर्ज की है।

अपनी शिकायत में महिला ने ये भी बताया कि उसके साथ ये वाकया साल 2018 में हुआ था। तब ये अधिकारी बतौर एम्बेसेडर के तौर पर नियुक्त था। ये महिला एम्बेसी से जुड़े एक एनजीओ में काम करती थी और ये उसका काम प्रवासी भारतीयों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करने में एम्बेसी की मदद करना था।

महिला ने अपनी शिकायत में ये भी लिखा कि पूर्व में तो ये आरोपी अधिकारी उसे काम संबंधी मेल और मैसेज भेजता था, लेकिन बाद में उसने आपत्तिजनक और अश्लील मैसेज भेजना शुरू कर दिए। ये अधिकारी महिला को असमय आपत्तिजनक और अश्लील मैसेज व्हॉट्सअप करता था। महिला ने बताया कि इस अधिकारी ने उसे अपने घर भी बुलाया था, लेकिन महिला ने इंकार कर दिया।

महिला ने आगे बताया कि नवंबर में इस अधिकारी ने उसे फोन कर एक जरूरी काम के सिलसिले में अपने ऑफिस में मिलने बुलाया। जब महिला उसके ऑफिस पहुंची तो अधिकारी ने उसे अपने कमरे में बैठने को कहा क्योंकि उस समय तक उसके पर्सनल असिस्टेंट वहां थे। असिस्टेंट के जाने के बाद अधिकारी ने महिला द्वारा मिलने से लगातार इंकार करने पर नाराजगी जताई। इसी दौरान उसने महिला को गलत तरीके से हाथ लगाया और उसके साथ हरकत की। महिला जैसे-तैसे उस समय वहां से बचकर भागी।

(सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के तहत पीड़िता की पहचान उजागर ना हो, इसलिए आरोपी अधिकारी को लेकर पूरी जानकारी नहीं दी गई है।)

Posted By: Rahul Vavikar