नई दिल्ली। भारत के दो दिन के दौरे पर आए चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की शनिवार को पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात हुई। दोनों के बीच लगभग 90 मिनिट तक चर्चा हुई। दोनों देशों के अधिकारियों की मौजूदगी में हुई इस चर्चा के बाद भारत के विदेश मंत्री विजय गोखले ने प्रेस कांफ्रेंस लेकर बैठक में हुई चर्चाओं की ब्रिफिंग की। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान गोखले ने कहा कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग भारत से कारोबारी रिश्ते कायम करने को लेकर गंभीर हैं। उन्होंने भारतीय व्यापारियों को चीन में निवेश का न्यौता भी दिया है। बैठक के दौरान दोनों देशों के बीच आपसी तालमेल बढ़ाने को लेकर भी चर्चा हुई है। बता दें कि चीनी राष्ट्रपति का दो दिन का अनौपचारिक दौरा आज खत्म हो गया है।

मोदी-जिनपिंग में इन मुद्दों पर हुई चर्चा

विदेश सचिव विजय गोयल ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग के बीच हुई चर्चा को लेकर जानकारी देते हुए कहा कि भारत ने चीन को दवा और IT सेक्टर में निवेश का भी न्यौता दिया है। वहीं चीनी राष्ट्रपति ने भारतीय व्यापारियों को अपने देश में निवेश का न्यौता दिया है। दोनों देशों के बीच टूरिज्म बढ़ाने को लेकर भी चर्चा हुई। इसके साथ ही कैलाश मानसरोवर यात्रा को लेकर भी बातचीत हुई। भारत और चीन के बीच पर्यावरण में हो रहे बदलाव को लेकर भी बातचीत हुई।

कश्मीर को लेकर नहीं हुई कोई चर्चा

विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि दोनों देशों के बीच वैश्विक आतंकवाद को लेकरभी चर्चा हुई। हालांकि इस दौरान चीन ने भारत से कश्मीर मसले पर कोई भी चर्चा नहीं की। माना जा रहा है कि वुहान बैठक के बाद दोनों देशों के रिश्ते पहले से बेहतर हुए हैं।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket