Rules Changing from July 2021: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ATM निकासी के नियमों से लेकर ITR के नियमों तक जुलाई के महीने से 5 अहम चीजें बदल जाएंगी। SBI के बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट पर सर्विस चार्ज बदल रहा है। इविंग लाइसेंस के नियम भी बदल रहे हैं। इसके साथ ही LPG सिलेंडर की कीमतों में भी हर महीने की तरह इस महीने भी फिर से निर्धारित की जाएंगी। जिन लोगों ने पिछले 2 सालों से टैक्स रिटर्न नहीं भरा है, उन्हें अब दोगुना TDS देना पड़ेगा। आइए 1 जुलाई से हो रहे इन बदलावों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

बदल रहे हैं SBI के नियम

स्टेट बैंक 1 जुलाई से नए सर्विस चार्ज लागू कर रहा है। ATM, Cheque book, मनी ट्रांसफर और दूसरी सुविधाओं में नए चार्ज लगाए गए हैं। ये सभी चार्ज 1 जुलाई 2021 से लागू होंगे। एक महीने में सिर्फ 4 ट्रांजैक्शन ही हो सकेंगे। इसका मतलब है कि बैंक से पैसे निकालने पर भी आपको फीस देनी पड़ेगी। एक महीने में 4 से ज्यादा ट्रांजैक्शन होने पर 15 रुपये चार्ज और GST का पैसा देना पड़ेगा।

SBI खाताधारकों के लिए चेक बुक के नियम भी बदले

स्टेट बैंक के खाताधारक अब साल में अधिकतम 10 चेक बुक का इस्तेमाल कर सकेंगे। 10 से ज्यादा चेकबुक लेने पर आपको 40 रुपये और GST भरने पर अगली 10 बुक दी जाएंगी। वहीं 25 बुक लेने के लिए आपको 75 रुपये और GST भरना पड़ेगा।

सिलेंडर की कीमतों में बदलाव

भारत में तेल कंपनियां हर महीने की शुरुआत में LPG सिलेंडर की कीमतों की समीक्षा करती है और जरूरत के हिसाब से उसमें बदलाव किया जाता है। हालांकि अभी कर इस बारे में कोई जानकारी नहीं आई है। इसके बावजूद कयास लगाए जा रहे हैं कि इस महीने सिलेंडर की कीमतों में बदलाव हो सकता है।

इनकम टैक्स के नियमों में बदलाव

अगर आपने पिछले कुछ सालों से इनकम टैक्स रिटर्न नहीं भरा है तो आज ही भर दीजिए, वरना 1 जुलाई से आपकी सैलरी से दोगुना TDS कटना शुरू हो जाएगा। इनकम टैक्स विभाग ने TDS रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 15 जुलाई तक बढ़ा दी है, लेकिन जिन लोगों ने लगातार दो साल से अपना TDS नहीं भरा है और इसकी रकम 50 हजार से ज्यादा है तो उन्हें आज ही अपना TDS रिटर्न भर देना चाहिए वरना उनके लिए TDS की दरें 5-10 परसेंट से बढ़कर 10-20 परसेंट हो जाएंगी।

IFSC कोड भी बदलेगा

सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक में विलय हो चुका है और इसकी बैंकिंग डिटेल बदलने वाली है। केनरा बैंक ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर बताया है कि सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों के लिए 1 जुलाई से IFSC कोड बदल जाएगा। ग्राहकों को NEFT/ RTGS/IMPS के जरिये फंड लेने के लिए नए केनरा आईएफएससी कोड का इस्तेमाल करना होगा। नया IFSC केनरा बैंक की वेबसाइट में जाकर पता किया जा सकता है। इसके अलावा सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों को अब नए आईएफएससी और एमआईसीआर कोड के साथ नई चेक बुक बैंक से लेनी होगी।

Posted By: Arvind Dubey